.

"जय माताजी मारा आ ब्लॉगमां आपणु स्वागत छे मुलाक़ात बदल आपनो आभार "
आ ब्लोगमां चारणी साहित्यने लगती माहिती मळी रहे ते माटे नानकडो प्रयास करेल छे.

.

Notice Board


Sponsored Ads

Sponsored Ads

Sponsored Ads

...

...

19 अप्रैल 2019

चैत्र सुद पुनम ऐटले समाज सेवक श्री पिंगळशीभाई पायक नो जन्म दिवस

आजे चैत्र सुद पुनम (ता.31-03-2018) ऐटले समाज सेवक श्री पिंगळशीभाई पायक नो जन्म दिवस

'चारण' (द्रिमासिक) मुख पत्रना तंत्री, तेओ चारणी साहित्यना संशोधक हता.  "मातृदर्शन" ना रचियता अने ऐ जमानामां वकीलात भणेला हता. तेमज सरकारी नोकरी ठुकरावी समाज सेवामां जीवन अर्पी देनार अलगारी चारण रत्न. आई श्री सोनल मां ना शकितशाली नेजा हेठळ पह्म श्री दुला भाया काग साथे समाज सुधारणाना कार्य करेल

नाम               :-  पिंगळशीभाई पायक
पितानुं नाम    :- परबतभाई पायक 
जन्म             :- चैत्र सुद पुनम 
वतन             :- लोद्राणी - कच्छ 
स्वर्गवास       :- श्रावण सुद पुनम 

पिंगळशीभाई पायक ने कोटि कोटि वंदन




अवनवी माहिती, चारणी साहित्य , रचनाओ, ऑडियो , पुस्तक, तेमज अपना विस्तारना धार्मिक प्रसंग, समाचार  मोकली सहकार आपवा विनंती 


Email - vejandh@gmail.com

WhatsApp No - 9913051642



अवनवा समाचार, माहिती, जोब समाचार अने साथे चारणी साहित्य (जेमां काव्य,छंद, ऑडियो, बुक वगेरे....) स्वरूपे बधा सुधी पहोचे ते माटे Broadcast लीस्ट बनाववामां आवेल छे

जो तमने पण Broadcast लीस्ट मां जोडाववो मांगता होय तो आ नंबर 9913051642 सेव करी आपनुं पुरू नाम अने सरनामुं लखी मेसेज करो ऐटले टुंक समय मां ज आपने अपडेट ना मेसेज मळता थई जाशे.

आ Broadcast नो हेतु ऐटलो ज छे  वधारे चारणो सुधी माहिती पहोंचे अने उपयोगी थाय ऐ माटे आपना सहकार नी अपेक्षा छे.

खास नोंध :- आपना नंबर कोई ग्रुपमां ऐड करवामां नही आवे परंतु पर्सनल आपने मेसेज आवशे जेनी नोंध लेवा विनंती

                         सहकार बदल आपनो आभार
                               

                               वंदे सोनल मातरम


18 अप्रैल 2019

चैत्र सूद चौदश ऐटले शेषावतार श्री रावळापीर दादानो जन्म दिवस

आजे चैत्र सूद चौदश ऐटले  शेषावतार श्री रावळापीर दादानो जन्म दिवस 

श्री रावळापीर दादानो संक्षिप्तमां परिचय

नाम :- रावळ अजरामल गेलवा

पितानुं नाम :- अजरामल घांघणीया गेलवा

मातानुं नाम :- देवलबाई काना सेड़ा

कुळ :- चारणकुळ

वंश :- नागवंश

जन्म :- वि.स.1491 चैत्र सूद-14

जन्म स्थल :- गंगोण ता.नखत्राणा-कच्छ 

शाखा गोत्र :- मीसण

कुलऋषि :- गियाणनाथ

पेटा शाखा :- गेलवा

अवतार :- शेषनारायण (धोरमनाथ)

सगपण :- गुंदल ममाया लांबा

समाधी :- भादरवा सूद-7

कार्यभूमि :- वलसरा

मंदिर :- वलसरा  गाम :-मस्का ता.मांडवी कच्छ

लेखक :- आशानंदभाई गढवी
              झरपरा मुंदरा कच्छ


संदर्भ :- शेषावतार श्री रावळापीर दादा ईतिहास बुकमांथी

आ बूक डाउनलोड करवा माटे :- Click Here


 जय रावळापीर दादा 

17 अप्रैल 2019

|| सूर्यवंदना छप्पय || || कर्ता मितेशदान गढ़वी(सिंहढाय्च) ||

(11-4-2019)

*मिहीर भरण पद मृग,धरण सुर करण वरण धन,*
*मिहीर भरण पद मृग,जरण हर पाप हरण जन*
*मिहीर भरण पद मृग,तरण कोटि जिय तरी तन*
*मिहीर भरण पद मृग,शरण तव नमें सकलजन*
*पद भरण अरण जग पेखतो,दन देतो परिमल दान*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,धर नित्य नमण मित ध्यान*

(12-4-2019)

*करा ताप आ करा,खरा दल  सरा नभ खरा,*
*करा ताप आ करा,खरा जल तरा वल खरा,*
*करा ताप आ करा,खरा पल वा अतल खरा,*
*करा ताप आ करा,खरा कटी काल पल खरा,*
*हर खरा समय तुज पर हरा,दन ताप्या तम सम देह*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,नित वदत कर्म मित नेह*

(वल- झाकळ)

(13-4-2019)

*सुद्रढ मनन सकार,वरण गुण मती विजयवर,*
*सुद्रढ़ मनन सकार,प्रती अवकाश प्रलयकर,*
*सुद्रढ़ मनन सकार,उद्गामन आभ  अजयमर*
*सुद्रढ़ मनन सकार,भोर प्रकृती भवनभर*
*नभ मंडल निरखीय तु नवो,निर्मल मन सुद्रढ़ नाथ*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,अविरत मित रह मम आथ*

(14-4-2019)

*चैत्र सूद नोम(रामनवमी)*

*रदय राम सम राण,राम  सुर जाप तप्यो रज,*
*रदय राम सम राण,तृप्त दल अहम मौन तज*
*रदय राम सम राण,सुरापत मोभ सुप्रत सज*
*रदय राम सम राण,गुरबअत जरत प्रगट गज*
*रीत राम नोम रा राणसु,प्रत हेत पुरातन पुंज*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी पटे,कर प्रीत लगे मित कुंज*

(15-4-2019)

*किरण क्रोध कैलाश,जोग महाकाल जुवारु,*
*अखिल ब्रह्म पर आश,पंचमुख प्रेम पसारु*
*देव दिग्गज दलनाथ,महा ममता सुख मारु*
*सहू पर शाखी सुर,असुर पर आप उदारु*
*है नाथ नाम नारायणा,नित वंदन न्यारू नाम*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,धन मित गुण तोळा धाम*

है नारायण,आ विश्व मा देवोनो देव महाकाल कैलाश पर बिराजमांन छे,त्यारेय तु हयात,आ विश्व नो रचनाकार ब्रह्मा,जेना पांच मुख हता(एक मुख नो शिवजी ए नाश कर्यो हतो) एवा समयना हयाती,मोटा मोटा देव दिग्गज पण तमारा वंदन करेछे,मा जगदंबाओ ना तमे शणगार बनी एमनी लोबडीओ मा आभला बनी चमक्या,दरेक परिस्थितिमा आप शाख पुरी,असुरो पर पण आप उदार बनी जीवन व्यवस्थीत जीववानु शिखवाड्यू,एवा उदारी देव,नारायण नामी नाथ तमारा नाम हु नित जापु अने हु नित्य जापतो रहू एवा नारायण ने नित्य वंदन

(16-4-2019)

*आभ धजा अरमान,सुरज रज आप सु रंगी*
*आभ धजा अरमान,सुहावत टेक सुचंगी*
*आभ धजा अरमान,विरल विद विश्व विराजत*
*आभ धजा अरमान,सत्य थर आप सजावत*
*अम लोक धरा पद आपना,तु घूमट पताका  तेज*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,सुख मित बनियो अम  सेज*

(17-4-2019)

*झलक व्योम जळहळा,करण दल कवच कुंडळा,*
*झलक व्योम जळहळा,ठरण बळ प्रबळ खळ थळा,*
*झलक व्योम जळहळा,तखत पर टीखळ कु टळा,*
*झलक व्योम जळहळा,कोइ नव जाण तव कळा*
*प्रति खेल पलक परमाणनो,तू खेलावण तमहरा*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,धन गुण मित पारख धरा*

*🙏---मितेशदान(सिंहढाय्च)---🙏*

*कवि मित*

16 अप्रैल 2019

પ.પૂ. આઈશ્રી સોનલ માનું અપ્રાપ્ય વિડીયો

પ.પૂ. આઈશ્રી સોનલ માનું અપ્રાપ્ય વિડીયો
વ્રત લીધું વરુડી તણું, દેવા દન દન દાત
લેવાના હેવા નહી, ધન ધન સોનલ માત
આઈશ્રી સોનલ માના દર્શન
અપ્રાપ્ય વીડિયો જોવા માટે નીચેની લિંક ઓપન કરો
⤵⤵⤵⤵
https://youtu.be/UFYqWs-YL1k
આવા બીજા વિડીયો જોવા માટે આ ચેનલને Subscribe કરો

LIKE | SHARE | COMMENT | SUBSCRIBE
Forward To All Friends & Groups
       વંદે સોનલ માતરમ્

15 अप्रैल 2019

चारणी ढाळ मा प्राचीन लग्न गीतो

चारणी ढाळ मा प्राचीन लग्न गीतो

स्वर :- श्री पिंगळशीभाई गढवी अने परिवारना सभ्यो 

विडियो जोवा माटे :- Click Here

Sponsored Ads