.

"जय माताजी मारा आ ब्लॉगमां आपणु स्वागत छे मुलाक़ात बदल आपनो आभार "
आ ब्लोगमां चारणी साहित्यने लगती माहिती मळी रहे ते माटे नानकडो प्रयास करेल छे.

WhatsApp Update

.

Notice Board


Sponsored Ads

Sponsored Ads

Sponsored Ads

3 सितंबर 2016

जोधपुर के वीर चारण उम्मेदसिंघ भारत माता की सेवा करते करते वीरगति प्राप्त हुए

जोधपुर    जोधपुर के बालेसर के बिराई गांव का एक बेटा देश के लिए अपना फर्ज निभाते हुए शुक्रवार को शहीद हो गया। शहीद की पार्थिव देह हवाई मार्ग से कलकत्ता के रास्ते जोधपुर लाई जा रही है। इसके बाद सैन्य सम्मान के साथ शहीद का अंतिम संस्कार किया जाएगा।जानकारी के अनुसार बीएसएफ के जवान उम्मेद सिंह कविया मुठभेड़ में शहीद हो गए। जैसे ही इस बात की खबर गांव पहुंची शोक की लहर दौड़ गई। गांव के हर युवक का सीना गर्व से फूल गया था, लेकिन नम आंखें दुख का अहसास भी करा रही थीं। शहीद कविया की पार्थिव देह कलकत्ता से जोधपुर हवाई मार्ग से लाई जा रही है। कुछ ही देर में गांव में सैन्य सम्मान के साथ कविया का अंतिम संस्कार किया जाएगा। बिराई गांव में बालेसर पुलिस मौके पर मौजूद है।संताप में डूबे ग्रामीणों ने शहीद के सम्मान में पूरा बाजार बंद कर दिया। शहीद के घर बाहर ग्रामीणों का तांता लगा है। कोई माता-पिता को ढांढस बंधा रहा है तो शहीद की बहादुरी पर फख्र करने को कह रहा है। फिलहाल पार्थिव शरीर के इंतजार में गांव के लोग बैठे हैं। सम्मान और दर्द उनकी आंखों में साफ देखा जा सकता है।     
             
Article Link :-  Click Here


जोधपुर के वीर चारण उम्मेदसिंघ भारत माता की सेवा करते करते वीरगति प्राप्त हुए। इन शहीद वीर को गुमाने का शौक और उनकी बहादुरी पे पुरे समाज को गर्व है।

इस शहीद की वीरगति पर मोगल सेना अहमदाबाद, फूल नहीं पर फूल की पंखुड़ी समान रूपया 5100/- वीर चारण के प्रति आदर करते हुए उनके परिवार को अर्पण करती है।

मोगल सेना अहमदाबाद अभ्यास करते छात्रों का ग्रुप है, मोगल सेना हर हमेशा चारण समाज के विकास के कामो और जरूरमंद चारणो की सहायता करती रहेगी। समाज के अन्य समूह(ग्रुप) को भी शहीदवीर के परिवार की सम्मानित भेट करने की प्रार्थना करती है। 
वीर शहीद चारणो अमर रहो।
मोगल सेना अहमदाबाद।

कोई टिप्पणी नहीं:

Sponsored Ads