.

"जय माताजी मारा आ ब्लॉगमां आपणु स्वागत छे मुलाक़ात बदल आपनो आभार "
आ ब्लोगमां चारणी साहित्यने लगती माहिती मळी रहे ते माटे नानकडो प्रयास करेल छे.

WhatsApp Update

.

Notice Board


Sponsored Ads

Sponsored Ads

Sponsored Ads

24 नवंबर 2016

ई शुरा तणा ऐंधाण - देव गढवी नानाकपाया-मुंदरा

शुरवीरो माटे आम तो लखता शब्दो ओछा पडे,
जेटलुं लखाय ऐटलुं ओछुं छे पण बहुज संक्षिप्त
मां शुरवीर ना ऐंधाण वर्णवा प्रयास करेल छे,
भुल-चुक क्षमा

           *ई शुरा तणा ऐंधाण*

माथे न होय कलगी,वस्त्रे न होय प्रमाण
हजार समो ऐक जडे,ई शुरा तणा ऐंधाण

कमर कटारी बांधी ने,कईक करतां गुमान
पण धेर्यवान शांत रहे,ई शुरा तणा ऐंधाण

मुख बोल्या नव फरे,ऐ समय देता प्रमाण
नेक टेक धारी अडग,ई शुरा तणा ऐंधाण

गौधन,वतन,जगहीत,कारज दे बलीदान
भय नहीं मृत्यु तणो,ई शुरा तणा ऐंधाण

रण मेदाने जुजता,शस्त्रो थी ओणखाण
पाछा कदम नव भरे,ई शुरा तणा ऐंधाण

✍🏻देव गढवी
नानाकपाया-मुंदरा
       कच्छ

कोई टिप्पणी नहीं:

Sponsored Ads