.

"जय माताजी मारा आ ब्लॉगमां आपणु स्वागत छे मुलाक़ात बदल आपनो आभार "
आ ब्लोगमां चारणी साहित्यने लगती माहिती मळी रहे ते माटे नानकडो प्रयास करेल छे.

WhatsApp Update

.

Notice Board


Sponsored Ads

Sponsored Ads

Sponsored Ads

30 अप्रैल 2019

|| सुर्यवंदना छप्पय || || कर्ता मितेशदान गढवी(सिंहढाय्च) ||

*|| नित्य सूर्यवंदना ||*
*||कर्ता : मितेशदान महेशदान गढवी(सिंहढाय्च) ||*

  *||🌞 क़ळश छप्पय 🌞||*


*(21-4-2019)*

*आलम पवितर आज,रह्यो निर्भर तम राजे,*
*आलम पवितर आज,गुणा गढ़गढ़ तुव गाजे,*
*आलम पवितर आज,कर्यो सृस्टि सुख काजे*
*आलम पवितर आज,बिरद रूप बाप बिराजे*
*अम जीवतर आलम आपनु,तु पवितर नाखेय तेज*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भव पर मित छांटी भेज*

*(22-4-2019)*

*जय त्रिकाल जुगराज,त्रि तला तोल तराजे,*
*जय त्रिकाल जुगराज,सुगंध सुरम्मिय साजे,*
*जय त्रिकाल जुगराज,प्रभा प्रांगण पट पामी,*
*जय त्रिकाल जुगराज,अभा ब्रह्माण्ड अनामी,*
*रथ अश्व रवि रमणांगाणो,कर तार त्रिकाले काज,*
*पट निहर  प्रौढ़ अवनी परे,रहो मित रिदै रविराज*

*(23-4-2019)*

*चकित लाल थइ चाल,ताल सुर संधिकाल तट,*
*चकित लाल थइ चाल,न्याल नत मथ्थ नमत नट*
*चकित लाल थइ चाल,भोर पट झलक जाल भट*
*चकित लाल थई चाल,घोर अतियानंद दृश घट*
*गहकेय गढ़ संध्या गगन,रूप मुग्ध मनोहर राण*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भव मित कृपा सम भाण*

*(24-4-2019)*

*व्रज विहार व्रजचंद,वयळ वन जगत विसारण*
*व्रज विहार व्रज चंद,वर्ण तम कंश विदारण*
*व्रज विहार व्रज चंद,पंडसुत ज्ञान प्रखर पत*
*व्रज विहार व्रज चंद,समर हड़मत सुजान सत*
*मधुवनमधुप मनहर महान,कर चंद क्रिपा किरपाण*
*पट निहर  प्रौढ़ अवनी परे,भजियो मित सम रूप भाण*


*(25-4-2019)*

*सुंदर नभ सम्राट,मनोरम तेज मधुरु,*
*सुंदर नभ सम्राट,प्रति दिन पाड़त पुरू,*
*सुंदर नभ सम्राट,चांद थी आप चकोरा,*
*सुंदर नभ सम्राट,भले शिव थी नय भोरा,*
*कहु बात रूप कश्यपकुमार,पीतअंबर आभ प्रतिम*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,नित वंदन कर मित नीम*

*(26-4-2019)*

*पाप हरे परमेश,ताप नाखी तरवाये,*
*पाप हरे परमेश,श्राप तोड़े सर वाये*
*पाप हरे परमेश,अगन जल आप उगारो*
*पाप हरे परमेश,धरण टाढा दल धारो*
*वंदन हजार विश्वात्मा,अमरतम गंग आधार*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,मित पाप जगत ना मार*

*(27-4-2019)*

*तख्त लाल तरबोळ,सगन भय संधिकाल सम,*
*जकळ जाल जमरोळ,तरफळी चोळ मेघ तम*,
*पकळ मुंड तम प्रौढ़,नित्य नव दन्न नमावे,*
*सबळ भाल नभ सुर्य,सिंघ आसन्न सजावे,*
*भल युद्ध व्योम अवकाश भेर,नित करत रहे नाराण*
*पट निहर  प्रौढ़ अवनी परे,जपता मित नित जग जाण*

*(28-4-2019)*

*अटल देव तम आथ,साथ छाया पळ छायो,*
*अटल देव तम आथ,रोष महा भल्ल रिझायो*
*अटल देव तम आथ,श्वास पर ताप सवायो*
*अटल देव तम आथ,नाथ तम शीश नमायो*
*छत सुर छोगाळो छायलो,अम आथ तिहारो आभ*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,लहु पर मित राखण लाभ*

*(29-4-2019)*

*हर भवान हुंकार,जटा घट किरण आभ जड,*
*विष विकार कर वार,खत्र वट देव महा खड़,*
*तेज ताप जप तार,सार शिव नाथ समोवड,*
*अधिपत आभ उगार,भुवन मध बैठ भरतभड़,*
*उद्गम आप अविनाश अंत,रूप शिव समानी राण*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भोळो मित भजियो भाण*

*(30-4-2019)*

*अट पट सर असमान,आन अंजु सुर अवभूत,*
*तरण अखिल नव तान,दशक अचलातळ भव दुत*
*सतगत्त सर तळी शान,सप्त डाबलपद  सम सुत*
*अजर अमर अभिध्यान,धरा तप जरे ठरे धुत*
*धन अवन दिशा चौ ध्यान धर,सूर धाम असर समरूप,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भवो मित उजागर भूप*

*🙏---मितेशदान(सिंहढाय्च)---🙏*

*कवि मित*

29 अप्रैल 2019

श्री मोटा भाडिया चारण समाज आयोजीत आठमो समूहलग्न महोत्सव आमंत्रणपत्रिका

श्री मोटा भाडिया चारण समाज आयोजीत आठमो  समूहलग्न महोत्सव आमंत्रणपत्रिका

कार्यक्रमनी रूपरेखा
ता.06-05-2019 ने सोमवार
रीत रीवाज
समुर्ता
वनाय तथा मांडवो 
भोजन समारंभ बपोरे 11 -30
दांडीयारास बपोरे 3-00 कलाके

कलाकारो
श्री घनश्याम झुला  ऐन्ड  पार्टी 

संतवाणी रात्रे 09-00 कलाके
कलाकारो
(1) श्री देवराज गढवी (नानो डेरो)
(2) श्री हरीभाई गढवी (मोटा भाडिया)
(3) श्री श्यामभाई गढवी (मोटा भाडिया)

ता.07-05-2019 ने मंगळवार
जान आगमन  सवारे 9 -00 कलाके
हस्त मेळाप सवारे 10-30 कलाके
भोजन समारंभ बपोरे 12-00 कलाके
विदाय बपोरे 2-00 कलाके

समग्र आयोजनना आचार्य
शास्त्री श्री कश्यप ऐस. जोषी (मोटा भाडिया)

स्थळ :- चारण समाज वाडी, मोटा भाडिया ता.मांडवी-कच्छ

प्रभुता मां पगला मांडनार सुपुत्रो-सुपुत्रीओने शुभ आशिष आपवा अने प्रसंगनी शोभा वधारवा भावभर्यु निमंत्रण

निमंत्रक
श्री मोटा भाडिया चारण समाज

"संगठन ऐज समाज प्रगतिनो श्रेष्ठ माध्यम छे"




चारण समाजना युवा कवि श्री मिलिन्द गढवीना पुस्तकनुं विमोचन थाशे

चारण समाजना युवा कवि श्री मिलिन्द गढवीना पुस्तकनुं विमोचन थाशे



चारण आई परंपरा श्री यशवंतभाई लांबा

चारण आई परंपरा श्री यशवंतभाई लांबा



28 अप्रैल 2019

पांचोटीया चारण समाज आयोजीत समूह लग्नोत्सव आमंत्रणपत्रिका

*पांचोटीया चारण समाज आयोजीत समूह लग्नोत्सव आमंत्रणपत्रिका*

*भावात्मक ऐकता, सामाजीक विकास, समय, शकित अने संपत्तिने बचाववाना हेतुसर, सामाजीक क्रांतिना भागरुपे प.पू. देवल माँ नी प्रेरणा अने संतो, माताजीओ ना शुभ  आशीर्वाद थी आपणी चारणी संस्कृति अने पारंपरिक मूल्योने ध्यानमां राखीने संवत 2075 वैशाख सुद-3 (अखात्रीज) ना शुभदिने "आठमो" समूह लग्नोत्सवनुं आयोजन करवामां आव्यू छे जेमां आप सौने पधारवा भावभर्यु आमंत्रण*

*कार्यक्रमनी रूपरेखा*
ता.06-05-2019,  सोमवार
🔹वनाय सवारे 7-00 कलाके
🔹मांडवो सवारे 10-00 कलाके
🔹भोजन समारंभ 12-00 कलाके
*मेडावडो* सवारे 10-00 कलाके
(1) श्री यशवंतभाई लांबा (जांबुडा)
(2) श्री अनुभा जामंग (सूरेन्द्रनगर)
(3) श्री डाया भगत (मोटी खाखर)

*धर्मसभा तथा आशीर्वचन*
आईश्री देवल मा (सवनी-वेरावळ)
सहित माताजीओ साधु संतो पधारशे.

स्थळ :- आईश्री पुनई माँ मंदिर पांचोटीया, मांडवी कच्छ.

*निमंत्रक*
पांचोटीया चारण समाज

     *वंदे सोनल मातरम्*

27 अप्रैल 2019

श्री खोडीयार चारण मंडळ समूह लग्न समिति - वराणा आयोजीत 12 मो समूह लग्नोत्सव

श्री खोडीयार चारण मंडळ समूह लग्न समिति - वराणा आयोजीत 12  मो समूह लग्नोत्सव

आ समूह लग्न मां 29    नव दंपतीओ प्रभुतामां पगलां मांडशे

मांगलिक प्रसंगो

ता.05-05-2019
गणेश स्थापन सवारे 9-00 थी  11-30 कलाके 


ता.06-05-2019 
मंडप मुहूर्त तथा ग्रहशांति - सवारे 6-00 थी  7-30 कलाके 


ता.07-05-2019 
जान आगमन सांजे 5-00 कलाके
भोजन समारंभ सांजे 6-00 कलाके
स्वागत समारंभ रात्रे  9-30 कलाके
हस्त मेळाप रात्रे 11-15 कलाके
कन्या विदाय रात्रे 3-00 कलाके

शुभ स्थळ :-

आईश्री खोडीयार धाम,
मु. वराणा ता. समी जि. पाटण

निमंत्रक
श्री खोडीयार चारण मंडळ समूहलग्न समिति मु. वराणा ता. समी जि. पाटण

आमंत्रण पत्रिका :- Click Here

AAI SHREE SONAL MA NI VAAT - NARAYAN SWAMI BAPU

AAI SHREE SONAL MA NI VAAT - NARAYAN SWAMI BAPU



26 अप्रैल 2019

छंद सारसी रचियता भद्रायु गढवी

छंद सारसी रचियता भद्रायु गढवी 

श्री अखिल कच्छ चारण सभा आयोजित आईश्री सोनल मा प्रेरित समूह लग्न रजत जयंती महोत्सव-2019 आमंत्रणपत्रिका

श्री अखिल कच्छ चारण सभा आयोजित आईश्री सोनल मा प्रेरित समूह लग्न रजत जयंती महोत्सव-2019 आमंत्रणपत्रिका


सहर्ष खुशी साथे जणाववानुं के प.पू. आईश्री सोनल मानी असीम कृपाथी सं.2075 वैशाख सुद-3 (अखात्रीज) मंगळवार, ता.07-05-2019ना शुभ दिवसे श्री लक्ष्मण राग चारण बोर्डिंग मध्ये 25मा समूह लग्ननुं आयोजन करवामां आव्यु छे. तो आ शुभ प्रसंगे प्रभुतामां पगला मांडनार ज्ञातिना सुपुत्रो-सुपुत्रीओने आशीर्वाद आपवा अने प्रसंगनी शोभा वधारवा तथा ज्ञाति गंगाना दर्शननो लाभ लेवा भावभर्यु निमंत्रण पाठवीऐ छीऐ.

आ समूह लग्नमा 70 दंपतीओ प्रभुतामा पगला मांडशे

मांगलिक प्रसंगो

ता.06-05-2019 दांडीयारास
सांजे 5-30 थी रात्रे 12-00 कलाक सुधी
कलाकार :- श्री कीर्तीदान गढवी
स्थळ :- जी.टी.ग्राउन्ड, मांडवी कच्छ

ता.07-05-2019
सवारे 8-00 कलाके :- बोर्डिंगमा हाजर थवु.
सवारे 8-30 कलाके :- मंडपारोपण
सवारे 9-30 कलाके :- दागीना पहेराववा
सवारे 10-30 कलाके :- हस्त मेळाप
बपोरे 12-30 कलाके :- भोजन समारंभ
बपोरे 2-30 कलाके :- सत्कार समारंभ - आर्शीवचन
सांजे 4-15 कलाके :- विदाय समारंभ

समग्र प्रसंगना दाताश्रीओ
श्री देवश्रीबाई रामभाई गढवी परिवार - मोटी खाखर
श्री खेतशीभाई देवराजभाई मुंधुडा - मुंबई
श्री ईश्वरभाई अरजणभाई मुंधुडा - नानी रायण

निमंत्रक
श्री विजयभाई करशनभाई गढवी (प्रमुखश्री अखिल कच्छ चारण सभा)
श्री देवराजभाई हरीभाई गढवी (उपप्रमुखश्री अखिल कच्छ चारण सभा)
श्री भीमशीभाई काकुभाई बारोट (मंत्रीश्री अखिल कच्छ चारण सभा)
श्री भचुभाई (पबुभाई) लधाभाई गढवी (प्रमुखश्री समुह लग्न समिति)
श्री अखिल कच्छ चारण सभा तथा समूह लग्न समितिना तमाम सेवको

आमंत्रणपत्रिका (PDF) :- Click Here

24 अप्रैल 2019

स्कोलरशीप - चारण(गढवी) विधार्थीओ जोग

स्कोलरशीप - चारण(गढवी) विधार्थीओ जोग

चारण - गढवी समाजना सौराष्ट्र - कच्छना तेजस्वी विधार्थीओ जेमणे 70% थी वधु माकर्स मेळवेल होय अने ( सेल्फ फाईनान्स सिवाय) धोरण 10 पछीना डिप्लोमा तथा धोरण 12 पछीना उच्च अभ्यासक्रम जेवा के C.A, मेडिकल ,अेन्जीनीयरींग , B.C.A. ,M.C.A. ,M.B.A.तेमज उच्च अभ्यास करी रह्या छे तेओने पण लाभ लई शकशे .ते माटे ईन्दुबेन धीरुभाई गढवी मेमोरीयल ट्रस्ट द्वारा - राजकोट उपरांत सौराष्ट्र - कच्छना विधार्थीओने 2019 - 2020 शैक्षणिक वर्ग माटे स्कोलरशीप आपवानुं नक्की करेल छे.

जे माटेना अरजी फोर्म ता.01-05-2019 थी फोर्म वितरण करवामां आवशे जे फोर्ममां तमाम कोलम भरी मागेल विगतो तथा मार्कशीटनी नकल साथे ता. 30-6-2019 सुधीमां मोकलवानी रहेशे.

फॉर्म डाउनलोड करवा माटे :- Click Here

सरनामुं

ईन्दुबेन धीरुभाई गढवी मेमोरीयल ट्रस्ट ,
जयुबीली ट्रेड सेन्टर , श्रीनाथ ट्रावेल्सनी सामे,
जवाहर रोड, राजकोट - 360001

सवारना 10. थी 12 वाग्या ( रविवार थी शुक्रवार ) सुधीमां रुबरु अथवा पोस्ट/कुरियर द्वारा पहोंचाडवा अनुरोध छे

ट्रस्टनी व्यस्तताना कारणे कृपा करी फोन पर संपर्क नहि करवा विनंती करवामां आवे छे

चंदुभाई साबा,
प्रमुखश्री,ईन्दुबेन धीरुभाई गढवी मेमोरीयल ट्रस्ट-राजकोट

श्री रामभाई जामंग
मेनेजींग ट्रस्टी,ईन्दुबेन धीरुभाई गढवी मेमोरीयल ट्रस्ट-राजकोट

ट्रस्टनी प्रवृत्तिओ :-

मेडिकल सहाय ,

शिक्षण सहाय ,

सामाजिक प्रवृति,

कुदरती आपत्तिमां सहाय

भाईओ आ पोस्ट  बीजा गृपमां फोरवर्ड करवा नम्र विनंती छे जेथी करीने  दरेक चारण - गढवी समाजना विधार्थीओ ने लाभ मळी शके

       सहकार बदल आभार

           वंदे सोनल मातरम्

अवनवी माहिती, चारणी साहित्य , रचनाओ, ऑडियो , पुस्तक, तेमज अपना विस्तारना धार्मिक प्रसंग, समाचार  मोकली सहकार आपवा विनंती 

Email - vejandh@gmail.com

WhatsApp No - 9913051642


अवनवा समाचार, माहिती, जोब समाचार अने साथे चारणी साहित्य (जेमां काव्य,छंद, ऑडियो, बुक वगेरे....) स्वरूपे बधा सुधी पहोचे ते माटे Broadcast लीस्ट बनाववामां आवेल छे

जो तमने पण Broadcast लीस्ट मां जोडाववो मांगता होय तो आ नंबर 9913051642 सेव करी आपनुं पुरू नाम अने सरनामुं लखी मेसेज करो ऐटले टुंक समय मां ज आपने अपडेट ना मेसेज मळता थई जाशे.

आ Broadcast नो हेतु ऐटलो ज छे  वधारे चारणो सुधी माहिती पहोंचे अने उपयोगी थाय ऐ माटे आपना सहकार नी अपेक्षा छे.

खास नोंध :- आपना नंबर कोई ग्रुपमां ऐड करवामां नही आवे परंतु पर्सनल आपने मेसेज आवशे जेनी नोंध लेवा विनंती

                         सहकार बदल आपनो आभार
                               

                               वंदे सोनल मातरम

प.पू. आईश्री सोनल माना मंदिरे दीप प्रागट्य तेमज भुज चारण बोर्डिंगनुं उदघाटन आमंत्रणपत्रिका

प.पू. आईश्री सोनल माना मंदिरे दीप प्रागट्य तेमज भुज चारण बोर्डिंगनुं उदघाटन आमंत्रणपत्रिका

ता.12-05-2019, रविवार

सादर जय माताजी साथे जणाववानु के, भुज खाते निर्मलसिंहजी वाडी, मुंदरा रोड मध्ये आवेल प.पू. आईश्री सोनल माना मंदिरे दीप प्रागट्य अने श्री जखुभाई धानाभाई भुवा चारण बोर्डिंगनुं भव्यातित भव्य उदघाटन ता.12-05-2019, रविवारना शुभ दिवसे निर्धारेल छे.  आ शुभ प्रसंगे समग्र चारण समाजना भाईओ तथा बहेनोने सह परिवार पधारवा श्री अखिल कच्छ चारण सभा तरफथी भावभर्यु आमंत्रण पाठववामां आवे छे.

महोत्सवना सोनेरी अवसरो

ता.12-05-2019, रविवार
प्रथम सत्र
🔹सवारे 9-00 कलाके दीप प्रागट्य
🔹 सवारे 9-15 थी 12-30 कलाके (उद्दघाटन, सभा, सन्मान, पुस्तक विमोचन,
बपोरे 12-30 कलाके समूह प्रसाद

द्रितीय सत्र
बपोरे 3-00 थी 9-00 कलाके
(सन्मान, धर्मसभा, संध्या आरती वगेरे)
रात्रे 10 कलाके
पह्मश्री भीखूदानभाई गढवी तथा समाजना सुप्रसिद्ध चारणी साहित्यकारो द्रारा भव्य लोक डायरो

स्थळ
श्री जखुभाई धानाभाई भुवा चारण बोर्डिंग
निर्मलसिंहजीनी वाडी, मुंदरा रोड, भुज-कच्छ

निमंत्रक
श्री पुष्पदानभाई शंभुदानभाई गढवी (माजी सांसद)
श्री विजयभाई के.गढवी
(प्रमुखश्री, अखिल कच्छ चारण सभा)
श्री भीमशीभाई के. बारोट
(मंत्रीश्री, अखिल कच्छ चारण सभा)

सर्वेने पधारवा भावभर्यु हार्दिक आमंत्रण छे.

आमंत्रण पत्रिका(PDF)

गुजराती मां :- Click Here

अंग्रेजी मां :- Click Here

        वंदे सोनल मातरम्

19 अप्रैल 2019

चैत्र सुद पुनम ऐटले समाज सेवक श्री पिंगळशीभाई पायक नो जन्म दिवस

आजे चैत्र सुद पुनम (ता.31-03-2018) ऐटले समाज सेवक श्री पिंगळशीभाई पायक नो जन्म दिवस

'चारण' (द्रिमासिक) मुख पत्रना तंत्री, तेओ चारणी साहित्यना संशोधक हता.  "मातृदर्शन" ना रचियता अने ऐ जमानामां वकीलात भणेला हता. तेमज सरकारी नोकरी ठुकरावी समाज सेवामां जीवन अर्पी देनार अलगारी चारण रत्न. आई श्री सोनल मां ना शकितशाली नेजा हेठळ पह्म श्री दुला भाया काग साथे समाज सुधारणाना कार्य करेल

नाम               :-  पिंगळशीभाई पायक
पितानुं नाम    :- परबतभाई पायक 
जन्म             :- चैत्र सुद पुनम 
वतन             :- लोद्राणी - कच्छ 
स्वर्गवास       :- श्रावण सुद पुनम 

पिंगळशीभाई पायक ने कोटि कोटि वंदन




अवनवी माहिती, चारणी साहित्य , रचनाओ, ऑडियो , पुस्तक, तेमज अपना विस्तारना धार्मिक प्रसंग, समाचार  मोकली सहकार आपवा विनंती 


Email - vejandh@gmail.com

WhatsApp No - 9913051642



अवनवा समाचार, माहिती, जोब समाचार अने साथे चारणी साहित्य (जेमां काव्य,छंद, ऑडियो, बुक वगेरे....) स्वरूपे बधा सुधी पहोचे ते माटे Broadcast लीस्ट बनाववामां आवेल छे

जो तमने पण Broadcast लीस्ट मां जोडाववो मांगता होय तो आ नंबर 9913051642 सेव करी आपनुं पुरू नाम अने सरनामुं लखी मेसेज करो ऐटले टुंक समय मां ज आपने अपडेट ना मेसेज मळता थई जाशे.

आ Broadcast नो हेतु ऐटलो ज छे  वधारे चारणो सुधी माहिती पहोंचे अने उपयोगी थाय ऐ माटे आपना सहकार नी अपेक्षा छे.

खास नोंध :- आपना नंबर कोई ग्रुपमां ऐड करवामां नही आवे परंतु पर्सनल आपने मेसेज आवशे जेनी नोंध लेवा विनंती

                         सहकार बदल आपनो आभार
                               

                               वंदे सोनल मातरम


18 अप्रैल 2019

चैत्र सूद चौदश ऐटले शेषावतार श्री रावळापीर दादानो जन्म दिवस

आजे चैत्र सूद चौदश ऐटले  शेषावतार श्री रावळापीर दादानो जन्म दिवस 

श्री रावळापीर दादानो संक्षिप्तमां परिचय

नाम :- रावळ अजरामल गेलवा

पितानुं नाम :- अजरामल घांघणीया गेलवा

मातानुं नाम :- देवलबाई काना सेड़ा

कुळ :- चारणकुळ

वंश :- नागवंश

जन्म :- वि.स.1491 चैत्र सूद-14

जन्म स्थल :- गंगोण ता.नखत्राणा-कच्छ 

शाखा गोत्र :- मीसण

कुलऋषि :- गियाणनाथ

पेटा शाखा :- गेलवा

अवतार :- शेषनारायण (धोरमनाथ)

सगपण :- गुंदल ममाया लांबा

समाधी :- भादरवा सूद-7

कार्यभूमि :- वलसरा

मंदिर :- वलसरा  गाम :-मस्का ता.मांडवी कच्छ

लेखक :- आशानंदभाई गढवी
              झरपरा मुंदरा कच्छ


संदर्भ :- शेषावतार श्री रावळापीर दादा ईतिहास बुकमांथी

आ बूक डाउनलोड करवा माटे :- Click Here


 जय रावळापीर दादा 

17 अप्रैल 2019

|| सूर्यवंदना छप्पय || || कर्ता मितेशदान गढ़वी(सिंहढाय्च) ||

(11-4-2019)

*मिहीर भरण पद मृग,धरण सुर करण वरण धन,*
*मिहीर भरण पद मृग,जरण हर पाप हरण जन*
*मिहीर भरण पद मृग,तरण कोटि जिय तरी तन*
*मिहीर भरण पद मृग,शरण तव नमें सकलजन*
*पद भरण अरण जग पेखतो,दन देतो परिमल दान*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,धर नित्य नमण मित ध्यान*

(12-4-2019)

*करा ताप आ करा,खरा दल  सरा नभ खरा,*
*करा ताप आ करा,खरा जल तरा वल खरा,*
*करा ताप आ करा,खरा पल वा अतल खरा,*
*करा ताप आ करा,खरा कटी काल पल खरा,*
*हर खरा समय तुज पर हरा,दन ताप्या तम सम देह*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,नित वदत कर्म मित नेह*

(वल- झाकळ)

(13-4-2019)

*सुद्रढ मनन सकार,वरण गुण मती विजयवर,*
*सुद्रढ़ मनन सकार,प्रती अवकाश प्रलयकर,*
*सुद्रढ़ मनन सकार,उद्गामन आभ  अजयमर*
*सुद्रढ़ मनन सकार,भोर प्रकृती भवनभर*
*नभ मंडल निरखीय तु नवो,निर्मल मन सुद्रढ़ नाथ*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,अविरत मित रह मम आथ*

(14-4-2019)

*चैत्र सूद नोम(रामनवमी)*

*रदय राम सम राण,राम  सुर जाप तप्यो रज,*
*रदय राम सम राण,तृप्त दल अहम मौन तज*
*रदय राम सम राण,सुरापत मोभ सुप्रत सज*
*रदय राम सम राण,गुरबअत जरत प्रगट गज*
*रीत राम नोम रा राणसु,प्रत हेत पुरातन पुंज*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी पटे,कर प्रीत लगे मित कुंज*

(15-4-2019)

*किरण क्रोध कैलाश,जोग महाकाल जुवारु,*
*अखिल ब्रह्म पर आश,पंचमुख प्रेम पसारु*
*देव दिग्गज दलनाथ,महा ममता सुख मारु*
*सहू पर शाखी सुर,असुर पर आप उदारु*
*है नाथ नाम नारायणा,नित वंदन न्यारू नाम*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,धन मित गुण तोळा धाम*

है नारायण,आ विश्व मा देवोनो देव महाकाल कैलाश पर बिराजमांन छे,त्यारेय तु हयात,आ विश्व नो रचनाकार ब्रह्मा,जेना पांच मुख हता(एक मुख नो शिवजी ए नाश कर्यो हतो) एवा समयना हयाती,मोटा मोटा देव दिग्गज पण तमारा वंदन करेछे,मा जगदंबाओ ना तमे शणगार बनी एमनी लोबडीओ मा आभला बनी चमक्या,दरेक परिस्थितिमा आप शाख पुरी,असुरो पर पण आप उदार बनी जीवन व्यवस्थीत जीववानु शिखवाड्यू,एवा उदारी देव,नारायण नामी नाथ तमारा नाम हु नित जापु अने हु नित्य जापतो रहू एवा नारायण ने नित्य वंदन

(16-4-2019)

*आभ धजा अरमान,सुरज रज आप सु रंगी*
*आभ धजा अरमान,सुहावत टेक सुचंगी*
*आभ धजा अरमान,विरल विद विश्व विराजत*
*आभ धजा अरमान,सत्य थर आप सजावत*
*अम लोक धरा पद आपना,तु घूमट पताका  तेज*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,सुख मित बनियो अम  सेज*

(17-4-2019)

*झलक व्योम जळहळा,करण दल कवच कुंडळा,*
*झलक व्योम जळहळा,ठरण बळ प्रबळ खळ थळा,*
*झलक व्योम जळहळा,तखत पर टीखळ कु टळा,*
*झलक व्योम जळहळा,कोइ नव जाण तव कळा*
*प्रति खेल पलक परमाणनो,तू खेलावण तमहरा*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,धन गुण मित पारख धरा*

(18-4-2019)

*भय नाशी भवनाथ,भाण भुमिका भत भारी,*
*भय नाशी भवनाथ,भजु नित भरत भू धारी,*
*भय नाशी भवनाथ,भष्म पर भेख भितारी*
*भय नाशी भवनाथ,भजे सव भगवाधारी*
*भय भंजण भगवो भाणलो,भजता मित भावे भेद*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,वण तमो विज्ञानी वेद*

(19-4-2019)

*दल पर लगे न दाग,राग तपतो रग रचियो,*
*दल पर लगे न दाग,शरण तुज पर जो सजियो,*
*दल  पर लगे न दाग,जीवण संजोग जगावे,*
*दल पर लगे न दाग, फंद कट बार फगावे,*
*गुरु ध्यान सुरज तुज में गढ्यो,दल पर मुझ लगे दाग,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,रचियो मित भगती राग*

(20-4-2019)

*प्रेम पिरसणों प्राण,रेम रूदिया पर राखे,*
*प्रेम पिरसणों प्राण,चरम हैया गुण चाखे,*
*प्रेम पिरसणों प्राण,द्रश्य दख  नवतम दाखे,*
*प्रेम पिरसणों प्राण,नित्य किरपा सुर नाखे,*
*दल वालप  दे दुडीयंडो,भव भोजन पिरसे भाण*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,रवि मंगल धन मित राण*

*🙏---मितेशदान(सिंहढाय्च)---🙏*

*कवि मित*

16 अप्रैल 2019

પ.પૂ. આઈશ્રી સોનલ માનું અપ્રાપ્ય વિડીયો

પ.પૂ. આઈશ્રી સોનલ માનું અપ્રાપ્ય વિડીયો
વ્રત લીધું વરુડી તણું, દેવા દન દન દાત
લેવાના હેવા નહી, ધન ધન સોનલ માત
આઈશ્રી સોનલ માના દર્શન
અપ્રાપ્ય વીડિયો જોવા માટે નીચેની લિંક ઓપન કરો
⤵⤵⤵⤵
https://youtu.be/UFYqWs-YL1k
આવા બીજા વિડીયો જોવા માટે આ ચેનલને Subscribe કરો

LIKE | SHARE | COMMENT | SUBSCRIBE
Forward To All Friends & Groups
       વંદે સોનલ માતરમ્

15 अप्रैल 2019

चारणी ढाळ मा प्राचीन लग्न गीतो

चारणी ढाळ मा प्राचीन लग्न गीतो

स्वर :- श्री पिंगळशीभाई गढवी अने परिवारना सभ्यो 

विडियो जोवा माटे :- Click Here

14 अप्रैल 2019

छंद - भुजंगप्रयात सिद्ध चारण (विरवदरका)

*छंद - भुजंगप्रयात*

दुष्ट विकारो डारिणी मंगल करणी मात
भवसागर भव तारिणी वंदू माँ विख्यात

नमामी प्रभा पार्वती वेदमाता
प्रसिद्धा तुं सिद्धा जगत जन्मदाता
मृडानी महामेघमाला निराला
तुं ही चैतरी रक्तदन्ता कराला

अभीरु तुं ही भैरवी भोग ग्राही
तुं ही वायुमंडळ खडक तुं प्रवाही
अनामी तुं ही तुं सहस्त्राय नामी
तुं ही सिद्धिदा बुद्धिदा सर्वगामी

तुं ही ब्राह्मणी क्षत्रिया वैश्य शूद्रा
तुं ही मूलधारा तुं ही मूलमु़द्रा
तुं ही अष्टसिद्धि प्रदायं भवानी
तुं ही भाण रुपे युगे युग रवानी

तुं ही ज्योत रुपे प्रदीपं प्रकाशी
बनी ज्योत ज्वाळा वळी दैत नाशी
तुं लक्ष्मी स्वरूपे महामोह माया
तुं ही कामदा मोक्षदा शंभु जाया

महाकाल कालं करालं तुं काली
तुं ही देव तारण दयाली कृपाली
तुं ही लेखिनी लेख लेख्या सुलेखा
तुं संध्या सुपर्वा सुमेधा सुरेखा

तुं ही बालक्रीड़ा वयोवृद्ध रूपं
तुं दिव्या तुं दीप्ता अनेका अनूपं
तुं प्राची अवाची जगत जन्मदात्री
धरा धान धरणी शिशूप्रिय धात्री

तुं ही डाकिनी हाकिनी दीर्घनिंद्रा
तुं ही नूतना पूतना मात इंद्रा
निशाचर हरी अट्टहासं करंती
तुं ही दिव्य शक्ति त्रिलोके फरंती

तुं ही अन्नपूर्णा भये अन्नपुष्टि़
तुं ही मेघमंडल तणी घोर वृष्टि़
धरी ध्यान म्हारी अरज कान लीजो
सदा कूख चारण जनम सिद्ध दीजो

- *सिद्ध चारण (विरवदरका)*
Mo. 9586788806

छंद प्रकार :- रोला रचियता सिद्ध चारण(विरवदरका)

*छंद प्रकार :- रोला*

*🙏जय श्री राम🙏*

जयति जयति हरि राम नाम नवखंड निराला
सत्यव्रत सुरवीर धीर गंभीर कृपाला
बाहुबल बलवीर पीर हरता प्रतिपाला
रघुकुल भूषण भूप नृ़प तव दीन दयाला

दशरथ नंदन आप ताप संताप निवारण
पुरषोतम प्रिय प्राण राण जनता जन तारण
सरस बरन घनश्याम भाम तव दैत विडारण
हरि हरंत अरि असूर सूर धर भार उतारण

वरप्रदाय वर देव सेव हडुमंत करंता
धणण चले धनु बाण जाण सौ दैत डरंता
लजिया राखणहार वार कर विपत हरंता
जनकसुता वर धन्न अन्न भंडार भरंता

जगतारण जगपाल काल लंकेश नमामी
हरिहरन अवतरण धरण त्रेता युग स्वामी
लंकधणी कर ध्वंश वंश रघुकुल बहुनामी
सिद्ध भजे नित नाम राम हरजो हर खामी

*नोंध:-* भाम यानी क्रोध

- *सिद्ध चारण(विरवदरका)*
मो. 9586788806

चारण महात्मा ईशरदासजी बापु नी पुण्यतिथी निमित्ते ई-बुक हरिरस

आजे चैत्र सुद - 9 (राम नवमी ) ऐटले चारण महात्मा  ईशरदासजी बापु नी  पुण्यतिथी छे आ निमित्ते ई-बुक स्वरूपे हरिरस पुस्तक मुकववानो नानकडो प्रयास करेल छे 





चारण महात्मा  ईशरदासजीनुं टुंक मां जीवन चरीत्र 

नाम                :- ईशरदासजी बारहट 
पिता               :- सुराजी 
माता               :- अमरबा 
जाती               :- चारण 
शाखा               :- रोहडिया 
जन्म               :- विक्रम सवंत 1515 श्रावण सुद - 2 
जन्म स्थळ      :- भाद्रेश ता.बाडमेर जी.जोधपुर राजस्थान 
निर्वाण             :- विक्रम सवंत 1622  चैत्र सुद - 9 (रामनवमी) संचाणा मां समुद्र गमन 


                      चारण महात्मा  ईशरदासजी रचित पुस्तको
 

  1. हरिरस
  2. देवियाण
  3. छोटा हरिरस
  4. गुण निंदा स्तुति
आ पुस्तक ई-बुक स्वरूप मुकवा मंजुरी आपवा बदल तथा आ बुक नी PDF FILE कुरीयर मारफते मोकलाववा हुं हरिरस पुस्तकना  संपादक :- श्री लष्मणभाई  पिंगळशीभाई  गढवी - जामनगर वाळानुं खूब खूब आभार मानु छु.
                                           
                                            MP3 AUDIO

चारण महात्मा  ईशरदासजी नी वात -नारायण स्वामी बापुना स्वरमां :- Click Here

सांगा गौड़ अने  ईशरदासजी नी वात -ईशरदान ना स्वर :-  Click Here

चारण महात्मा  ईशरदासजी जीवन चरीत्र(PDF FILE ) :- Click Here


                                   देवियाण - किर्तीदन गढवी 


 देवियाण - जीतु दाद  गढवी 




Sponsored Ads