.

"जय माताजी मारा आ ब्लॉगमां आपणु स्वागत छे मुलाक़ात बदल आपनो आभार "
आ ब्लोगमां चारणी साहित्यने लगती माहिती मळी रहे ते माटे नानकडो प्रयास करेल छे.

WhatsApp Update

.

Notice Board


Sponsored Ads

Sponsored Ads

Sponsored Ads

31 अगस्त 2015

जय भोलेनाथ

जय भोलेनाथ
आजे श्रावण मासनो त्रीजो सोमवार छे तो भाईओ आजे भगवान शिवनी स्तुती माणीये
सदा शिव सर्व वरदाता, दिगंबर हो तो ऐसा हो,
हरे सब दु:ख भकतन के, दयाकर होतो ऐसा हो.
  सदा शिव सर्व वरदाता… टेक
शिखर कैलाश के उपर, कल्प तरूंओ की छाय में,
रमे नित संग गिरीजा के, रमाण घर हो तो ऐसा हो.
  सदा शिव सर्व वरदाता.…   (१)
शिरपे   गंगकी   धारा,   सुहावे   भालमें   लोचन,
कला मस्तक में चंदरकी, मनोहर हो तो ऐसा हो.
सदा शिव सर्व वरदाता.… (२)
भयंकर झहर जब निकला, क्षीर सागर के मंथन सें,
धरा  सब  कंठ में  पी  कर,  वीषंधर हो  तो ऐसा हो.
सदा शिव सर्व वरदाता…(३)
शिरों को काटकर अपने, कीया जब होम रावणने,
दिया सब राज दुनिया का, दिलावर हो तो ऐसा हो.
सदा शिव सर्व वरदाता…(४)
किया नंदी ने जा बन में, कठीन तप काल के डरसें,
बनाया खास गण अपना, अमर कर होतो  ऐसा हो .
सदा शिव सर्व वरदाता…(५)
बनाये  बीच  सागर  में,  तीन  पुर  दैत्य  सेनाने,
उडाये  एक ही  सरसे,  त्रिपुंडहर  हो  तो  ऐसा  हो.
सदा शिव सर्व वरदाता…(६)
दक्ष के यञ  में  जा  कर,  तजी  जब  देह  गिरीजा नें,
कीया सब  ध्वंस  पलभर में,  भयंकर  हो तो  ऐसा हो.
सदा शिव सर्व वरदाता…(७)
देव  नर  दैत्य  गण  सारे, रटे  नित  नाम  शंकर  का,
वो  ब्रह्मानंद  दुनिया  में,  उजागर  होतो  ऐसा  हो.
सदा शिव सर्व वरदाता…(८)
रचना :- श्री ब्रह्मानंद
टाइप :- सामळा .पी. गढवी मोटी खाखर
कोपी :- चारणनी मोज ग्रुप मांथी

      वंदे सोनल मातरम् 

19 अगस्त 2015

याद हेमु आवशे

|| आव्योय हेमुं याद ||

.                  || आव्योय हेमुं याद ||

.          रचना : जोगीदान गढवी (चडीया) 
.         राग : हे कान तारी मोरलीये मोही ने...


मीठप कंठे मोरलो, (ऐवो) सरवोय गुढो साद
जीव अमारो जोगडा, आव्योय हेमुं याद.


हे दान तारा रे कसुंबल कंठ मां,, ..मधरा रे मोर बोले...
ऐवा ढांकणीया गामना रे ..रतनु साख ना ..
जीरे हेमु भाई क्यारे आवे...हांरे हेमुं भाई क्यारे आवे..


हे..दान तारां रे गितडीयां ने गायतां..पांपण्युं माॉ पांणी आवे
ऐवा कळायेल कंठ ना ,..रे रुडा साद ना ..
जीरे ऐ गीतडां ने कोंण गावे..हांरे हेमुंभाई क्यारे आवे......


हे..दान तारा रे रुपक माय रोई ने ..गुजरात गांडी बनी..
ऐवा रांक नां रतन ने ..कडवां सासरीया...
जीरे आ जग मां कोंण लावे....हारे हेमु भाई क्यारे आवे..


हे दान गरजे अहाड नो मेघ त्यां..यादीयुं तारी आवे..
ऐवा काळजा ने कोरता.. रे ..मनडां मोंहता...
जीरे कानजी ने कोंण गावे...हारे हेमु भाई क्यारे आवो..


हे दान वाल्यप वळुंभतो वाट्य रे, ..जोगी दांन जुंवे..
ऐवा सरवण मास नी ..रे आठ्यम रात ना...
ग्येला हेमुं भाई क्यारे आवे..जीरे हेमुं भाई क्यारे आवे…


(कळायेल मोर जेवा कसुंबल कंठ ना गायक हेमुभाई गढवी ने हैया ना भावथी श्रद्धा सुमन रुप जोगीदान गढवी रचित आ भावगीत थी कोटी कोटी वंदन )
आवे हेमुं याद 


कोपी :- मौज ए दरीया ग्रुप मांथी
पोस्ट बाय :- www.charanisahity.in
➡ हेमुभाई गढवीना स्वरमां  अप्राप्य ऑडियो टूंक समयमां मुकवामां आवशे
आ अप्राप्य ऑडियो कुरियर मारफ़ते मोकलवा बदल श्री वेरशीभाई वरमल रे.भाटिया ता.कल्याणपुर जी-द्रारका वाळानो खूब खूब आभार
➡ तमारा पासे पण हेमुभाईना ऑडियो होय तो मोकलवा विनंती छे.
➡ 9913051642
      charanisahity@gmail.com



       वंदे सोनल मातरम् 

17 अगस्त 2015

सी.जी.आई.ऍफ़ नी कच्छ मां मीटींग योजाई

सी.जी.आई.ऍफ़ नी कच्छ मां मीटींग योजाई 

शिव स्तुति

जय भोलेनाथ
आजे श्रावण मासनो प्रथम सोमवार छे तो भाईओ आजे भगवान शिवनी स्तुती माणीये
 शिव  स्तुति 
शंभु  सरणे  पडी मांगु घडिये घडी, कष्ट  कापो
दया  करि शिव दर्शन  आपो ,
तमे भक्तोना दु:ख हर नारा
शुभ सौनु   सदा     करनारा
हु तो मंद मति तारी अकळ गति ,
कष्ट कापो .
दया करि  शिव....
अंगे भष्म समसान नी चोलि
संगे राखो सदा भुत टोली
भाले तिलक कर्यु , कंठे विस धर्यु .
अर्मुत आपो..दयाकरि शिव...
नेति नेति ज्या वेद कहे छे
मारु जिवडु त्या जीवा चाहे छे
सारा जगमां छे तु , वसु तारा मा हु ,
समजण आपो..दयाकरि शीव...
हुं तो एकल पंथ प्रवासि
छता आतम केम उदासि
थाक्यो      मथी रे  मथी
कारण   जडतु     नथी
समजन आपो..दयाकरि शिव..
आपो द्रष्टि मा तेज अनोखु
सारि सृष्टि  मा  शिव रुप.देखु
मारा मनमा वसो आवि हैये हसो
शांति आपो..दयाकरि  शिव..
भोळा शंकर भव दु:ख  कापो
नित्य सेवा नु शुभ फल  आपो
टालो मान मदा गोलो गर्व सदा
भक्ति आपो..दयाकरी शिव...
अंगे शोभे छे रुद्रा नि माला
कंठे लटके छे भोरिंग काला
तमे उमियापति अमने आपो मति
कष्ट कापो.. दया करि शिव...
आतो भक्त जनोनी छे अरजि
मानो नमानो मरजी   तमारी
अरजी चरणे धरी मारे जावु तरि
नैया पार उतारो...दयाकरी शिव दर्शन. आपो...

कोपी :- चारण ऐक धारण ग्रुप मांथी

5 अगस्त 2015

आधारकार्ड मां भुल सुधारवा माटेनी माहिती

 जो तमे तमारा आधारकार्डमां कोई भुल होय अथवा तो तेमां आपेल विगतने सुधारवा मांगता होय तो जाते सुधारी शको छो.

सुधारो करवा माटे नीचे जणावेल स्टेप्सने फोलो करो

➡ Step 1 :- Click Here


➡ Step 2 :- तमारा आधार नंबर तथा Text Verification मां आपेला अक्षर टाईप करी SEND OTP पर कलीक करो एटले तमारा मोबाईल नंबर पर ऐक पासर्वड आवशे.

➡ Step 3 :- हवे आधारकार्डमां तमारी विगत सुधारो

➡ Step 4 : सुधारा माटे जरूरी आधारो अपलोड करो

➡ Step 5 :- हवे तमे पोस्ट ऑफिस सिलेक्ट करो 

आधारकार्डमां सुधारो थईने तमारा घरे आवी जशे.

ख़ास नोंध :- आधारकार्ड रजीस्ट्रेशन वखते जो मोबाईल नंबर आपेला हशे तो ज विगतमां सुधारो थई शकशे.

पोस्ट टाईप :- वेजांध गढवी
                  

👉 मित्रो आ माहिती forward करजो कोईने उपयोगी थई शके छे

Sponsored Ads