.

"जय माताजी मारा आ ब्लॉगमां आपणु स्वागत छे मुलाक़ात बदल आपनो आभार "
आ ब्लोगमां चारणी साहित्यने लगती माहिती मळी रहे ते माटे नानकडो प्रयास करेल छे.

WhatsApp Update

.

Notice Board


Sponsored Ads

Sponsored Ads

Sponsored Ads

30 जून 2019

|| सूर्यवंदना || || कवि मितेशदान गढ़वी(सिंहढाय्च) ||

*||🌞 सूर्यवंदना 🌞||*
*|| कर्ता  मितेशदान(सिंहढाय्च) ||*
*|| ता:21-06-2019 थी ता:30-06-2019 ||*

*(21-06-2019)*

*वित्त चित वर्दित्त,नित्त जोडित नारायण,*
*नवकारी नवनीत,भीत भव प्रिते भायण,*
*वर्ण योग वर्णीत,कळा नर क्रिते करणा*
*जीवन योवन जीत,सदा रह तमसु शरणा*
*अज योग तणा तुही आध्यदेव,मुल योग तिहारे मान*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,सुर मित राखण तन शान*

*(22-06-2019)*

*प्रथा उगत सुर प्रजा,टेम धरियो जग टल्लो*
*प्रथा उगत सुर प्रजा,शिष्त भर्यो रग सल्लो*
*प्रथा उगत सुर प्रजा,श्वास से श्वास समायो*
*प्रथा उगत सुर प्रजा,जगत रीत एह जमायो*
*मारग माणह ना मारगे,ई ऊभो न रहतो आथ*
*पट निहर प्रोढ़ अवनी परे,सुर मित शिखवे संगाथ*

*(23-06-2019)*

*रवि सुबोध रट राम,नाम कुल वंश नरंदा,*
*महा युद्ध मही राण,कर्ण रूप तही करंदा*
*मांडवराय महान,आप परमोरु अंकन,*
*जडयो अंश हर जग्ग,तर्यो वट भर्यो सु टंकन*
*बनियो निमित्त हर युग भाण,सह चारण भ्रात समान*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,धरियो मित नित सुर ध्यान*

*(24-06-2019)*

*अनहद अतित अजेय,पतीत सु पावन परगट,*
*प्रश्न अळ्या  परमेय,जति शगति जोड्या जट*
*रच्या खेल रजवाट,वेल चढ़िये तरु वंशे,*
*कर्या  रूपे  किरतार,अमर पद नामसु अंशे,*
*प्रति अंश भर्यो परतापपुण,जे रह्यो रिदय महीराण*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भजिया हर जग मित भाण*

*(25-06-2019)*


*प्रज्वळीत परताप,झळहळत आभ झबूके,*
*प्रज्वळीत परताप,चरण धर चढे नह चुके,*
*प्रज्वळीत परताप,अरक अभिमान अमारो,*
*प्रज्वळीत परताप,तरु पट जरणा तारो*
*नवकार प्रज्वळत नारणा,अमियल विष कर अमरीत*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,अवगुण मित हरो अजीत*

*(26-06-2019)*

*कोड करे काश्यपा,छमक लील धरणा छोगा,*
*कोड करे काश्यपा,प्रित हेताळ थी पोगा,*
*कोड करे काश्यपा,जोड़ कडीयु सांकड़ जड,*
*कोड करे काश्यपा,कळावे दल खल पर कड,*
*रंगिन कला तुज राजधणी,दल रंग भरा दमदार*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भवने मित हरणा भार*

*(27-06-2019)*

*तम्म छम्म तरवाट,चढे चळकाट चितारे,*
*तम्म छम्म तरवाट,दिग्ग आवन अम द्वारे,*
*तम्म छम्म तरवाट,गंग आकाश ग्रजावे,*
*तम्म छम्म तरवाट,भ्रम्म तमसार भगावे,*
*भल दम्म दिगंबर भाणलो,सज रह्यो वीर सुरपाल*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,निरमित जग करियो न्याल*

*(28-06-2019)*

*कण कण कश्यपराय,विद्व वसुनाथ विराजी,*
*दियण तत्व दरशाय,बृहद अवकाशे बाजी,*
*अमल आप आधार,कमल सम सौरभ करणा*
*असर तोड़ अंधार,विमल  परकाशी वरणा,*
*अम नजरे तेज अपावियो,पथ दिर्घ दियो प्रतिपाल*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,जकडी मित भगती जाल*

*(21-06-2019)*

*वित्त चित वर्दित्त,नित्त जोडित नारायण,*
*नवकारी नवनीत,भीत भव प्रिते भायण,*
*वर्ण योग वर्णीत,कळा नर क्रिते करणा*
*जीवन योवन जीत,सदा रह तमसु शरणा*
*अज योग तणा तुही आध्यदेव,मुल योग तिहारे मान*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,सुर मित राखण तन शान*

*(22-06-2019)*

*प्रथा उगत सुर प्रजा,टेम धरियो जग टल्लो*
*प्रथा उगत सुर प्रजा,शिष्त भर्यो रग सल्लो*
*प्रथा उगत सुर प्रजा,श्वास से श्वास समायो*
*प्रथा उगत सुर प्रजा,जगत रीत एह जमायो*
*मारग माणह ना मारगे,ई ऊभो न रहतो आथ*
*पट निहर प्रोढ़ अवनी परे,सुर मित शिखवे संगाथ*

*(23-06-2019)*

*रवि सुबोध रट राम,नाम कुल वंश नरंदा,*
*महा युद्ध मही राण,कर्ण रूप तही करंदा*
*मांडवराय महान,आप परमोरु अंकन,*
*जडयो अंश हर जग्ग,तर्यो वट भर्यो सु टंकन*
*बनियो निमित्त हर युग भाण,सह चारण भ्रात समान*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,धरियो मित नित सुर ध्यान*

*(24-06-2019)*

*अनहद अतित अजेय,पतीत सु पावन परगट,*
*प्रश्न अळ्या  परमेय,जति शगति जोड्या जट*
*रच्या खेल रजवाट,वेल चढ़िये तरु वंशे,*
*कर्या  रूपे  किरतार,अमर पद नामसु अंशे,*
*प्रति अंश भर्यो परतापपुण,जे रह्यो रिदय महीराण*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भजिया हर जग मित भाण*

*(25-06-2019)*


*प्रज्वळीत परताप,झळहळत आभ झबूके,*
*प्रज्वळीत परताप,चरण धर चढे नह चुके,*
*प्रज्वळीत परताप,अरक अभिमान अमारो,*
*प्रज्वळीत परताप,तरु पट जरणा तारो*
*नवकार प्रज्वळत नारणा,अमियल विष कर अमरीत*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,अवगुण मित हरो अजीत*

*(26-06-2019)*

*कोड करे काश्यपा,छमक लील धरणा छोगा,*
*कोड करे काश्यपा,प्रित हेताळ थी पोगा,*
*कोड करे काश्यपा,जोड़ कडीयु सांकड़ जड,*
*कोड करे काश्यपा,कळावे दल खल पर कड,*
*रंगिन कला तुज राजधणी,दल रंग भरा दमदार*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भवने मित हरणा भार*

*(27-06-2019)*

*तम्म छम्म तरवाट,चढे चळकाट चितारे,*
*तम्म छम्म तरवाट,दिग्ग आवन अम द्वारे,*
*तम्म छम्म तरवाट,गंग आकाश ग्रजावे,*
*तम्म छम्म तरवाट,भ्रम्म तमसार भगावे,*
*भल दम्म दिगंबर भाणलो,सज रह्यो वीर सुरपाल*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,निरमित जग करियो न्याल*

*(28-06-2019)*

*कण कण कश्यपराय,विद्व वसुनाथ विराजी,*
*दियण तत्व दरशाय,बृहद अवकाशे बाजी,*
*अमल आप आधार,कमल सम सौरभ करणा*
*असर तोड़ अंधार,विमल  परकाशी वरणा,*
*अम नजरे तेज अपावियो,पथ दिर्घ दियो प्रतिपाल*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,जकडी मित भगती जाल*

*(30-06-2019)*

*वस्यो नाथ विस्वास,नाथ वसियो नित नयने,*
*वस्यो नाथ विदआन,शान वसियो घट शयने,*
*वस्यो नाथ वीर वाक,धीर दल वसियो ध्याने,*
*वस्यो नाथ वित्त वाल,मित तुही वसियो म्याने,*
*हर पळ जीवन पथ हाजरे,प्रत वसियो बन अम प्राण,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भजियो मित रुदये भाण*

*(30-06-2019)*

*वस्यो नाथ विस्वास,नाथ वसियो नित नयने,*
*वस्यो नाथ विदआन,शान वसियो घट शयने,*
*वस्यो नाथ वीर वाक,धीर दल वसियो ध्याने,*
*वस्यो नाथ वित्त वाल,मित तुही वसियो म्याने,*
*हर पळ जीवन पथ हाजरे,प्रत वसियो बन अम प्राण,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भजियो मित रुदये भाण*


*🙏---मितेशदान(सिंहढाय्च)---🙏*

*कवि मित*

28 जून 2019

યુટ્યુબ ચેનલ : કાગ સાહિત્ય (Kag Sahitya)

યુટ્યુબ ચેનલ : કાગ સાહિત્ય (Kag Sahitya)

▶આ કાગ સાહિત્ય ની ઑફિશિયલ યુટ્યુબ ચેનલ છે.
▶દરેક ને વિનંતી છે કે આ ચેનલ ની લીંક ને આગળ મોકલો અને તમામ સાહિત્ય પ્રેમીઓ સુધી પહોંચાડો.
▶અવનવા સાહિત્ય ના વીડીયો માટે ચેનલ ને શૈર અને લાઈક કરો, અને સબસ્ક્રાઈબ કરી બેલ આઇકોન  ને દબાવવા નુ ભૂલશો નહિ જેથી તમે સવથી પેહલા વિડિયો જોઈ શકશો. આભાર ✅
જય માતાજી
---------------------------------
Contact Us On :
Mail: kagsahitya@gmail.com
Whatsapp: +918488906906
Instagram: https://instagram.com/kag_sahitya
Facebook: https://www.facebook.com/KagSahitya/
----------------------------------

24 जून 2019

कच्छ गढवी सामाजिक उत्कर्ष ट्रस्ट

कच्छ गढवी सामाजिक उत्कर्ष ट्रस्ट


कीृष्णा मोहन छात्रवास पालनपुर प्रवेश जाहेरात

सुचना
आई श्री सोनल युवक मंडल बनासकांठा और के..पी.गढ़वी ट्रस्ट संचालित पालनपुर में कीृष्णा मोहन छात्रवास  में समाज के स्टूडेंट जो पालनपुर में रहकर  पढाई करना चाहते हो और कॉम्पिटिशन  की तैयारी करना चाहते हे उन सभी के लिये पालनपुर में चारण बोर्डिंग  में एड्मिसन  चालू हे
इच्छुक स्टूडेंट आई श्री सोनल युवक मंडल का संपर्क करे
9426704475,
9723815467
9426543068

22 जून 2019

|| रौद्रहनु रूप वर्णन || || कर्ता मितेशदान गढ़वी(सिंहढाय्च) ||

*|| रचना : रौद्रहनुरूप  वर्णन ||*
*|| छंद  : पद्धरी ||*
*|| कर्ता : मितेशदान महेशदान सिंहढाय्च ||*

*जय कपि कराल वा नंद जोर,कपि सुमन चंद छवी बल किशोर,*
*लिख विद्व लेख प्रभु लै ललाट,अळ प्रगट अंजनी उर उकाट (1)*

*मुख मुरत केश रूप कुंजमाल,भभकेय तेज रूप तिलक भाल*
*बल कांध जोर कांडा बरोड़,कळ युद्ध दैत्यपर मरण क्रोड (2)*

*दधि लांध धरण दटी मचक दोट,कटी कमर कस्स हनु चढ़त कोट*
*लंका हलंत हचमच लटार,कळळळ कटेय दल कस कटार(3)*

*धस दिग्ज पटक तरु धर धसेत,होकार हास्य हडमत हसेत*
*धक धळ धृबांग धम धनुरधार,थरथरत दैत्य उत पड़त ठार(4)*

*गळगळळ मेघ वसु नभ ग्रज्योय,सर विकट रौद्र उछरण स्रज्योय,*
*कट कळळ दंत भड़ लियो काल,धमरोळ दैत करियो धमाल(5)*

*लळखड्यो राज पद डग्यो लंक,डणक्योय रुद्र गढ़ लंक डंक,*
*भृकुटि मरोड़ भड़क्यो भवान,हठपे अळ्यो ज रूप हनुमान,(6)*

*नरलोक लंक हनु द्रशत नाथ,उण तज्यो दैत्य रघु वेर आथ*
*वध करण रावणा चढ़यो वीर,अदभुत भवन राजत अ धीर,(7)*

*मन नाथ स्वामी तव चरण मित,चित राम नाम गुण चिरंजीत*
*पदधरी चरण तुव ध्यान प्रति,ह्रदनाद आप हनुमान जति,(8)*

*🙏---मितेशदान(सिंहढाय्च)---🙏*

*कवि मित*

20 जून 2019

|| सुर्यवंदना छप्पय || || कवि मितेशदान महेशदान सिंहढाय्च ||

*|🌞| सूर्यवंदना छप्पय |🌞|*
*|| कर्ता मितेशदान महेशदान सिंहढाय्च ||*
*(ता: 11:06:2019 थी 20:06:2019)*


*(11-06-2019)*

*बिरद बनी ब्रह्मांड,एक अखिलेश्वर आपे,*
*बिरद बनी ब्रह्मांड,कैक कटी कहरसु कापे,*
*बिरद बनी ब्रह्मांड,ज्योत उजळी झळकावे*
*बिरद बनी ब्रह्मांड,खलक भय ने खळकावे*
*अप्रम अजेय अवलोक अमर,तुह त्रिभुवन गणनो तात*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,पुन पवितर दिय मित प्रात*

*(12-06-2019)*

*विध विध कर वरताय,साय निध निध सुर समणा,*
*विध विध कर वरताय,भुवन भव हर  सिध भमणा*
*विध विध कर वरताय,आ धरा टाळत आफत,*
*विध विध कर वरताय,ग्रजत वादळ मद गिरि गत,*
*अभिमान भले नभ आवरे,साचो सूरजण सम्राट*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,घटनाकर मित हर घाट*

*(13-06-2019)*

*झट्ट खळळ खट झबक,ठुमक जर झर वा ठणके,*
*गळळ आभ पट गमक,झुमक समदर जल झणके,*
*हमम नाद हिल्लोळ,तप्यो अगियार तट पर,*
*छमम वाय झमरोळ,धुणे ग्रज छाटे धर हर,*
*पल नभ चढे भेकार पवन,निरखत जल प्रबल निषेध*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,वारण बन मित सुर वैध*

*(14-06-2019)*

*कळ्यो आभ किरतार,फलक फोरम फरकावी,*
*कळ्यो आभ किरतार,ठेलियों समदर ठारी,*
*कळ्यो आभ किरतार,कस्यु वाताव्रण कांडू,*
*कळ्यो आभ किरतार,खेलियो धर नभ खांडू,*
*कज पुण्य अमो परताप कुणा,तार्या बन नाविक ताप,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,परते  मित ठार्या पाप*

*(15-06-2019)*


*ध्यान तिहारा धर्म,कर्म पर काज करावे,*
*ध्यान तिहारा धर्म,मर्म मन महि मरमावे,*
*ध्यान तिहारा धर्म,खेल रचियों खेलणको,*
*ध्यान तिहारा धर्म,मित सूर जीवन मणको,*
*चालत चितार मन ध्रम चले,पथ रही सुरज पंकाय,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,अजरामर जे अंकाय,*

*(16-06-2019)*

*खमा खलकना नाथ,समा सरताज सृस्टिना,*
*खमा खलकना नाथ,परख तुज पाव पृस्टिना,*
*खमा खलकना नाथ,वदु शु ? वात वखाणु !,*
*खमा खलकना नाथ,जीवण उर तेज कु जाणु*
*परब्रह्म पिरसणु प्रीतपणु,तू जाळव जग नी जाण*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भभकी मित नभ पर भाण*

*(17-06-2019)*

*परिकम्मा पुर प्राण,भरण जल धर भात्यु भर,*
*परिकम्मा पुर प्राण,विश्व कल्याण निसर वर,*
*परिकम्मा पुर प्राण,तख्त तिमिरा पद तोड़ी,*
*परिकम्मा पुर प्राण,मिश्र अवकाश मरोड़ी,*
*अवनंत मित जे आपसु,जवलंत जगत पर ज्योत,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,मुलवंत गुणा धर मोत*

*(18-06-2019)*

*जरण भर्यो जमराण,भरण पोषण कर भाणा,*
*जरण भर्यो जमराण,दरण भव कुड कुट दाणा,*
*जरण भर्यो जमराण,व्रहावो विरल विशाला,*
*जरण भर्यो जमराण,नित्य धर्मेश निराला,*
*नाथ कहु के आथ निमितपट,जर दुडियंडा धर जाण*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,भरख्यो तप दल मित भाण*

*(19-06-2019)*

*दुनिया दाखे देव,चंद्र पर तेज चकोरु,*
*दुनिया दाखे देव,सृस्टिपद नजर समोरु,*
*दुनिया दाखे  देव,वीरल विश्वास विधाता*
*दुनिया दाखे देव,भवन तप भरखो भ्रांता,*
*निर्मळ जळ दै नारायणा,तुज किरण तणा लै काम*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,नित जपता  सुरमित नाम*

*(20-06-2019)*

*महर चक्र मुलभाग,प्रथम जळ नभ परखावे*
*द्वितिय वमळ वा दाब,लिए तृतीया नभ लावे*
*वश कर भर वंटोळ,किरण खेची किरतारी,*
*मया करण सुर मोर,और वरसाद उतारी*
*ग्रहपत अम भारण ग्रहीयतु,अरु अषाढ़ लावत आम*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,हैया मित भरण सु हाम*

*🙏---मितेशदान(सिंहढाय्च)---🙏*

*कवि मित*
9558336512

19 जून 2019

स्व.आपाभाई गढवी (कवि आप) स्मृति विशेष संभारणा कार्यक्रम

स्व.आपाभाई गढवी (कवि आप) स्मृति विशेष संभारणा कार्यक्रम
तारीख :- 23-06-2019  
समय :- रात्रे 8-30 कलाके 
स्थळ   :- श्री स्वामिनारायण गुरुकुळ, ढेबर रोड,  राजकोट 
निमंत्रक :-  'कवि आप' परिवार, राजकोट


चारणी साहित्य ब्लॉगना अपडेट WhatsApp पर मेळववा माटे

અમારો નંબર તમારી સંપર્ક સૂચિમાં દાખલ કરો અને 'સ્ટાર્ટ' (START) ,નામ અને સરનામુ લખીને મેસેજ મોકલો હવે તમને સમાચાર મળવા શરુ થઇ જશે. કેટલું સરળ !



Get On WhatsApp Update :- Click Here 

चारणी साहित्य ब्लॉगना अपडेट WhatsApp पर मेळववा माटे

चारणी साहित्य ब्लॉगना अपडेट WhatsApp पर मेळववा माटे

અમારો નંબર તમારી સંપર્ક સૂચિમાં દાખલ કરો અને 'સ્ટાર્ટ' (START) ,નામ અને સરનામુ લખીને મેસેજ મોકલો હવે તમને સમાચાર મળવા શરુ થઇ જશે. કેટલું સરળ !



Get On WhatsApp Update :- Click Here 

18 जून 2019

ભજનગ્રંથ મેળવવા સંપર્ક કરો

જય હો સંતવાણી...!!!
ભજનગ્રંથ મેળવવા સંપર્ક કરો:
1-ભચાઉ 08282829389
2-મહેસાણા 09978783222
3-ધ્રોલ,જામનગર 09979292207
3-સુરત 09898422752
4-ભુજ 07016794843
5-જૂનાગઢ-ગિરિરાજ સ્ટુડિયો
કુરિયર દ્વારા પણ મંગાવી શકશો...
દરેક ઘર માં ભજનગ્રંથ હોય એવી અમારી લાગણી અને ભાવના છે.
સૌ નો સાથ તો ભજન નો વિકાસ.
આપણું ભજન આપણી ફરજ


चारणी साहित्य ब्लॉगना अपडेट WhatsApp पर मेळववा माटे


अवनवी माहिती, चारणी साहित्य , रचनाओ, ऑडियो , पुस्तक, तेमज अपना विस्तारना धार्मिक प्रसंग, समाचार  मोकली सहकार आपवा विनंती 



Email - vejandh@gmail.com

WhatsApp No - 9913051642


अवनवा समाचार, माहिती, जोब समाचार अने साथे चारणी साहित्य (जेमां काव्य,छंद, ऑडियो, बुक वगेरे....) स्वरूपे बधा सुधी पहोचे ते माटे Broadcast लीस्ट बनाववामां आवेल छे

जो तमने पण Broadcast लीस्ट मां जोडाववो मांगता होय तो आ नंबर 9913051642 सेव करी आपनुं पुरू नाम अने सरनामुं लखी मेसेज करो ऐटले टुंक समय मां ज आपने अपडेट ना मेसेज मळता थई जाशे.

आ Broadcast नो हेतु ऐटलो ज छे  वधारे चारणो सुधी माहिती पहोंचे अने उपयोगी थाय ऐ माटे आपना सहकार नी अपेक्षा छे.

खास नोंध :- आपना नंबर कोई ग्रुपमां ऐड करवामां नही आवे परंतु पर्सनल आपने मेसेज आवशे जेनी नोंध लेवा विनंती

                         सहकार बदल आपनो आभार
                               

                               वंदे सोनल मातरम

खाली ध्येय नक्की न करो ; पहोंची वळो ववार सेमिनार कच्छमित्रमा माणेकभाई गढवीनु अहेवाल

खाली ध्येय नक्की न करो ; पहोंची वळो ववार सेमिनार कच्छमित्रमा माणेकभाई गढवीनु अहेवाल








चारणी साहित्य ब्लॉगना अपडेट WhatsApp पर मेळववा माटे


अवनवी माहिती, चारणी साहित्य , रचनाओ, ऑडियो , पुस्तक, तेमज अपना विस्तारना धार्मिक प्रसंग, समाचार  मोकली सहकार आपवा विनंती 


Email - vejandh@gmail.com

WhatsApp No - 9913051642



अवनवा समाचार, माहिती, जोब समाचार अने साथे चारणी साहित्य (जेमां काव्य,छंद, ऑडियो, बुक वगेरे....) स्वरूपे बधा सुधी पहोचे ते माटे Broadcast लीस्ट बनाववामां आवेल छे

जो तमने पण Broadcast लीस्ट मां जोडाववो मांगता होय तो आ नंबर 9913051642 सेव करी आपनुं पुरू नाम अने सरनामुं लखी मेसेज करो ऐटले टुंक समय मां ज आपने अपडेट ना मेसेज मळता थई जाशे.

आ Broadcast नो हेतु ऐटलो ज छे  वधारे चारणो सुधी माहिती पहोंचे अने उपयोगी थाय ऐ माटे आपना सहकार नी अपेक्षा छे.

खास नोंध :- आपना नंबर कोई ग्रुपमां ऐड करवामां नही आवे परंतु पर्सनल आपने मेसेज आवशे जेनी नोंध लेवा विनंती

                         सहकार बदल आपनो आभार
                               

                               वंदे सोनल मातरम

17 जून 2019

चारणी साहित्य ब्लॉगना अपडेट WhatsApp पर मेळववा माटे

चारणी साहित्य ब्लॉगना अपडेट WhatsApp पर मेळववा माटे


अवनवी माहिती, चारणी साहित्य , रचनाओ, ऑडियो , पुस्तक, तेमज अपना विस्तारना धार्मिक प्रसंग, समाचार  मोकली सहकार आपवा विनंती 


Email - vejandh@gmail.com

WhatsApp No - 9913051642


अवनवा समाचार, माहिती, जोब समाचार अने साथे चारणी साहित्य (जेमां काव्य,छंद, ऑडियो, बुक वगेरे....) स्वरूपे बधा सुधी पहोचे ते माटे Broadcast लीस्ट बनाववामां आवेल छे

जो तमने पण Broadcast लीस्ट मां जोडाववो मांगता होय तो आ नंबर 9913051642 सेव करी आपनुं पुरू नाम अने सरनामुं लखी मेसेज करो ऐटले टुंक समय मां ज आपने अपडेट ना मेसेज मळता थई जाशे.

आ Broadcast नो हेतु ऐटलो ज छे  वधारे चारणो सुधी माहिती पहोंचे अने उपयोगी थाय ऐ माटे आपना सहकार नी अपेक्षा छे.

खास नोंध :- आपना नंबर कोई ग्रुपमां ऐड करवामां नही आवे परंतु पर्सनल आपने मेसेज आवशे जेनी नोंध लेवा विनंती

                         सहकार बदल आपनो आभार
                               

                               वंदे सोनल मातरम

16 जून 2019

अखिल कच्छ चारण सभाना प्रमुख तरीके चोथी वखत श्री विजयभाई करशनभाई गढवी साहेबनी वरणी

अखिल कच्छ चारण सभाना प्रमुख तरीके चोथी वखत श्री विजयभाई करशनभाई गढवी साहेबनी वरणी

आजरोज (16-06-2019) अखिल कच्छ चारण सभानी सामान्य सभा विश्रांति भवन, भुज खाते योजायेल.

जेमां अखिल कच्छ चारण सभाना प्रमुख तरीके सतत चोथी वखत सर्वानुमते श्री विजयभाई करशनभाई गढवी साहेब (राष्ट्रपति ऐवोर्ड विजेता, Ex.P.I) नी वरणी करवामां आवेल.

श्री विजयभाई के. गढवी साहेब ने खूब खूब अभीनंदन
💐💐💐💐

       वंदे सोनल मातरम




12 जून 2019

चारण महात्मा नरहरदासजी विरचित अवतार चरित्र आधारित संकलित काव्य संग्रह "अवतार चरित्र अर्क"

चारण महात्मा नरहरदासजी विरचित अवतार चरित्र आधारित संकलित काव्य संग्रह "अवतार चरित्र अर्क"

संकलन :- हरिभाई जखुभाई गढवी, भुज - कच्छ
मो. 7984144655

पुस्तक मेळववा माटे
श्री सहजानंद रूरल डेवलपमेंट ट्रस्ट,
GIDC गेस्ट हाउस पासे,
भुज कच्छ,
पीन कोड :- 370001
संपर्क :- 9825227509

वधारे माहिती माटे⤵⤵



ચારણીશૈલીમાં ભગવદ્ચરિત્રને વાચા આપતા સદ્ગ્રંથ 'અવતાર ચરિત્ર' આધારિત સંકલિત કાવ્યસંગ્રહ 'અવતાર ચરિત્ર અર્ક ' જે હાલ જ પૂજ્ય મોરારિ બાપુના  વરદ્ હસ્તે લોકાર્પણ પામ્યો. આ કાવ્યસંગ્રહ સાહિત્યપ્રેમીઓ, કવિઓ, કલાકારો, વક્તાઓ ,  કથાકારો તેમજ પાઠકો માટે પથદર્શક બનવા સક્ષમ છે.
   આ કાવ્યસંગ્રહ આપ paytm થી રુપિયા 200 /- મોકલી  ઘરબેઠાં મેળવી શકો છો.. 
સંપર્ક : ધર્મેન્દ્ર શાહ ,ભુજ 
મો.  098796 30387 
   🙏જય માતાજી 🙏




|| सूर्यवंदना छप्पय || || कर्ता मितेशदान(सिंहढाय्च) ||

*||🌞रचना : सूर्यवंदना🌞 ||*
*||कर्ता : मितेशदान(सिंहढाय्च) ||*

*(01-06-2019)*

*परोप कार पुर्णाथ,पूण्य पर जीत पखावे*
*परोपकार पुर्णाथ,नित्य निस्वार्थ नखावे,*
*परोपकार पुर्णाथ,दानरो तात तु दिनकर*
*परोपकार पुर्णाथ,सुमन सुध फोरम सुरवर*
*विज्ञान विजय पर आप विरा,दल दानी गुणवन देव*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,सुख करण सुरा मित सेव*

*(02-06-2019)*

*समरण भेर सभान,भक्ति गुण भरता भेरण,*
*समरण भेर सभान,विश्व संस्कार तु वेरण,*
*समरण भेर सभान,उपाडत मन विचार  अम,*
*समरण भेर सभान,तोड़ चकचुर विख्ख तम*
*दाखत अम भावे दिनकरा,नित समरण मनसा नीर*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,वंदन मित नर सुर वीर*

*(03-06-2019)*

*केशर काल कृपाल,नाथ निम न्याल नवींतम,*
*केशर काल कृपाल,सदा तप्यो सुर शितम,*
*केशर काल कृपाल,अवन चरिताल उभारे ,*
*केशर काल कृपाल,खोट नय जीवन खारे,*
*अरु जल  विशाल तट भर अगन,थल महि भरेय जल ठार*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,शीत मित गुण सुरज सार*

*(04-06-2019)*

*परमजीत परमेश,अगन बल आप अनेरु,*
*परमजीत परमेश,गगन संध्या कर गेरू,*
*परमजीत परमेश,चंद्र शितम ठारण चल*
*परमजीत परमेश,टहक लय तारक बन तल*
*कर्ता अजब्ब करनार कृपा,भावी पदे एक ज भाण*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,रसीया मित रन्नाराण*

*(05-06-2019)*

*आज ईद पण आप,उग्या अविभेद उजागर,*
*कदे धर्म नय काप,सदा समधर्म सरासर,*
*चार धर्म चकडोळ,नित्य फरता धरती नत*
*पण सुरज परीमाण,अजा धरणी थी अवगत*
*भले धर्म तणा धर भेदहो,भव  भेद    न  राखत  भाण*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,पवितर मित गुण परित्राण*

*(06-06-2019)*

*त्रिकम तेज तोखार,वेग वरताय विरासन,*
*त्रिकम तेज तोखार,मुरत झाखेय गगन मन*
*त्रिकम तेज तोखार,किरण लट केश कुमारा*
*त्रिकम तेज तोखार,धीर वहती तप धारा*
*वहता सदाय तप वरहो वरह,सब तारया जीवन सुर*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,नवनीत मित करणा नुर*

*(07-06-2019)*

*समय जुगे समराण,प्रहर निरवाण प्रसन्नो,*
*समय जुगे समराण,ऊभो मैदान आसन्नो,*
*समय जुगे समराण,दैत द्रशता नय दिशे*
*समय जुगे समराण,राण घट रहे न रिशे*
*समय भले वित जाय सुरण,वित जाय भले आ वीत,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,मित  रह्यो एक ज सुरमीत*

*(08-06-2019)*

*दिव्य ज्योत दरबान,प्रकट परिधान पुजाणा,*
*दिव्य ज्योत दरबान,राज रैयत नभ राणा,*
*दिव्य ज्योत दरबान,दैव दर्शन तुज दाता,*
*दिव्य ज्योत दरबान,विरल तुही इल्म विधाता,*
*आदि अनाध पद नमन अमो,सुर नाथ समो नही साथ,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,अमणो मित अविचल आथ*

*(09-06-2019)*

*विश्वरूप वैराट,गजब काया तुज गरजे,*
*विश्वरूप वैराट,सकळ संसार कु सरजे,*
*विश्वरूप वैराट,बिंन्द नभ आप बिराजे,*
*विश्वरूप वैराट,कृपा नित निरखण काजे,*
*सुर आप शाख सर्वे सदाय,महा भारत विश्व मुरार,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,सरखो मित सुर सम सार*

*(10-06-2019)*

*आप धरो अवतार,अजरमर परम उजारो,*
*आप धरो अवतार,अवन अभिषेक उतारो,*
*आप धरो अवतार,वंदु धर हेम व्रसावो,*
*आप धरो अवतार,कस्ट धर ताप कसावो,*
*हर एक जुग हर पळ हयात,कीर्ति पद सु किरतार,*
*पट निहर प्रौढ़ अवनी परे,अब धरोय मित अवतार*

*🙏---मितेशदान(सिंहढाय्च)---🙏*

*कवि मित*

Sponsored Ads