.

"जय माताजी मारा आ ब्लॉगमां आपणु स्वागत छे मुलाक़ात बदल आपनो आभार "
आ ब्लोगमां चारणी साहित्यने लगती माहिती मळी रहे ते माटे नानकडो प्रयास करेल छे.

WhatsApp Update

.

Notice Board


Sponsored Ads

Sponsored Ads

Sponsored Ads

31 मई 2018

SPIPA Entrance Test for Competitive Exam Training-2018-19

SPIPA Entrance Test for Competitive Exam Training-2018-19

Important Dates

Application start from: 31/05/2018

Last date for application: 14/06/2018

Last date for Fee Submission: 19/06/2018


More Details :- Click Here

30 मई 2018

छंद कवित रचिता चारण विजयभा हरदासभा बाटी

🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
🌸🌸 *छंद = कवित* 🌸🌸

*परख ले बात अरु जात को भी जाँच लिजो.*
*नाहक न बाँधी लिजो वृथा दरसात है.*
*पोकळ सबंध कबु काम नाम राखे नही.*
*ऐसी हाथ ताली तुम छडो बडी घात है.*
*आवे बेठे पास अरु समय को खावे बडो.*
*उपजे ना वेला बीज बंझर दिन रात है.*
*मित के मुखोटे पेंन झुठी मुस्कान छावे.*
*विज ऐसे लोगन को छोडो सुखपात है.*

🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻

*बेठे रेवे साथ पर साथ कछु देवे नही.*
*मार्ग मे तो मिले पर मार्ग उलजावे है.*
*हाथ तो मिलावे यार हाथ कछु देवे नही.*
*आवे अरु जावे खूब देखी फूसलावे है.*
*गले मिल जावे फिर यार गल पावे नही.*
*दोगल दोरंग बडी बात दोहरावे है.*
*कच्चे ऐसे मित मिले ताको कोई रंग नही.*
*विज ऐसे लोगन से भाग मुरझावे है.*

🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻

*आनँद विनोद हूमे खूमची खूदे है खाली.*
*वेला विपरीत परे आँख मुंद खडे है.*
*मिळे है माल जदे जंबुक बन साथ रेवे.*
*खुटे अरु टुटे तदे हाथ बंद पडे है.*
*सरसो समय हेम कही वाह वाही छुटे.*
*विपत पडे है तद मौन मुख झडे है.*
*बहु हाथ ताली मित ताल कछु देवे नही.*
*विज ऐसे लोगन तो प्रेम भाव छडे है.*

🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻

*रचिता=चारण विजयभा हरदासभा बाटी*

*मो=9726364949*

🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻

25 मई 2018

कविऐ पंचतत्त्व साथे निकटता केळववी जोईऐ कच्छमित्रमां करशनभाई गढवीनो अहेवाल

कविऐ पंचतत्त्व साथे निकटता केळववी जोईऐ कच्छमित्रमां करशनभाई गढवीनो अहेवाल


अवनवी माहिती, चारणी साहित्य , रचनाओ, ऑडियो , पुस्तक, तेमज अपना विस्तारना धार्मिक प्रसंग, समाचार  मोकली सहकार आपवा विनंती 

Email - vejandh@gmail.com

WhatsApp No - 9913051642


अवनवा समाचार, माहिती, जोब समाचार अने साथे चारणी साहित्य (जेमां काव्य,छंद, ऑडियो, बुक वगेरे....) स्वरूपे बधा सुधी पहोचे ते माटे Broadcast लीस्ट बनाववामां आवेल छे

जो तमने पण Broadcast लीस्ट मां जोडाववो मांगता होय तो आ नंबर 9913051642 सेव करी आपनुं पुरू नाम अने सरनामुं लखी मेसेज करो ऐटले टुंक समय मां ज आपने अपडेट ना मेसेज मळता थई जाशे.

आ Broadcast नो हेतु ऐटलो ज छे  वधारे चारणो सुधी माहिती पहोंचे अने उपयोगी थाय ऐ माटे आपना सहकार नी अपेक्षा छे.

खास नोंध :- आपना नंबर कोई ग्रुपमां ऐड करवामां नही आवे परंतु पर्सनल आपने मेसेज आवशे जेनी नोंध लेवा विनंती

                         सहकार बदल आपनो आभार
                               

                               वंदे सोनल मातरम

हॉर्मोनियमवादक बन्या प्रसिद्ध लोकगायक हरिभाई गढवी

हॉर्मोनियमवादक बन्या प्रसिद्ध लोकगायक हरिभाई गढवी

अवनवी माहिती, चारणी साहित्य , रचनाओ, ऑडियो , पुस्तक, तेमज अपना विस्तारना धार्मिक प्रसंग, समाचार  मोकली सहकार आपवा विनंती 

Email - vejandh@gmail.com

WhatsApp No - 9913051642


अवनवा समाचार, माहिती, जोब समाचार अने साथे चारणी साहित्य (जेमां काव्य,छंद, ऑडियो, बुक वगेरे....) स्वरूपे बधा सुधी पहोचे ते माटे Broadcast लीस्ट बनाववामां आवेल छे

जो तमने पण Broadcast लीस्ट मां जोडाववो मांगता होय तो आ नंबर 9913051642 सेव करी आपनुं पुरू नाम अने सरनामुं लखी मेसेज करो ऐटले टुंक समय मां ज आपने अपडेट ना मेसेज मळता थई जाशे.

आ Broadcast नो हेतु ऐटलो ज छे  वधारे चारणो सुधी माहिती पहोंचे अने उपयोगी थाय ऐ माटे आपना सहकार नी अपेक्षा छे.

खास नोंध :- आपना नंबर कोई ग्रुपमां ऐड करवामां नही आवे परंतु पर्सनल आपने मेसेज आवशे जेनी नोंध लेवा विनंती

                         सहकार बदल आपनो आभार
                               

                               वंदे सोनल मातरम


दुहा छंद नो बेताज बादशाह जयदेव गढवी कच्छमित्र मां माणेकभाई गढवीनो अहेवाल

दुहा छंद नो बेताज बादशाह जयदेव गढवी कच्छमित्र मां माणेकभाई गढवीनो अहेवाल

अवनवी माहिती, चारणी साहित्य , रचनाओ, ऑडियो , पुस्तक, तेमज अपना विस्तारना धार्मिक प्रसंग, समाचार  मोकली सहकार आपवा विनंती 

Email - vejandh@gmail.com

WhatsApp No - 9913051642


अवनवा समाचार, माहिती, जोब समाचार अने साथे चारणी साहित्य (जेमां काव्य,छंद, ऑडियो, बुक वगेरे....) स्वरूपे बधा सुधी पहोचे ते माटे Broadcast लीस्ट बनाववामां आवेल छे

जो तमने पण Broadcast लीस्ट मां जोडाववो मांगता होय तो आ नंबर 9913051642 सेव करी आपनुं पुरू नाम अने सरनामुं लखी मेसेज करो ऐटले टुंक समय मां ज आपने अपडेट ना मेसेज मळता थई जाशे.

आ Broadcast नो हेतु ऐटलो ज छे  वधारे चारणो सुधी माहिती पहोंचे अने उपयोगी थाय ऐ माटे आपना सहकार नी अपेक्षा छे.

खास नोंध :- आपना नंबर कोई ग्रुपमां ऐड करवामां नही आवे परंतु पर्सनल आपने मेसेज आवशे जेनी नोंध लेवा विनंती

                         सहकार बदल आपनो आभार
                               

                               वंदे सोनल मातरम

24 मई 2018

राजाशाही वखतनी खराई नी परंपरा एकबंध करशनभाई गढवीनो अहेवाल

राजाशाही वखतनी खराई नी परंपरा एकबंध

क्रांतिकारी प्रतापसिंह बारहट(चारण) की 125वी जयंती एवं 100 वा शहादत दिवस

क्रांतिकारी प्रतापसिंह बारहट(चारण) की 125वी जयंती एवं 100 वा शहादत दिवस

शहीद प्रतापसिंह बारहट्ट (चारण)   

उनका जन्म राजस्थान के उदयपुर में हुआ थे। वे केसरी सिंह बारहठ के पुत्र थे। प्रारंभिक शिक्षा कोटा, अजमेर और जयपुर में हुई। क्रांतिकारी मास्टर अमीरचंद से प्रेरणा लेकर देश को स्वतंत्र करवाने में जुट गए।

वे रासबिहारी बोस का अनुसरण करते हुए क्रांतिकारी आन्दोलन में सम्मिलित हुए। रास सिंह बिहारी बोस का प्रताप पर बहुत विश्वास था। ३ दिसम्बर १९१२ को लॉर्ड हर्डिंग्स पर बम फेंकने की योजना में वे भी सम्मिलित थे। उन्हें बनारस काण्ड के सन्दर्भ में गिरफ्तार किया गया और सन् १९१६ में ५ वर्ष के सश्रम कारावास की सजा हुई। बरेली के केंद्रीय कारागार में उन्हें अमानवीय यातनाएँ दी गयीं ताकि अपने सहयोगियों का नाम उनसे पता किया जा सके किन्तु उन्होने किसी का नाम नहीं लिया। ७ मई १९१८ को जेल में ही उनकी मृत्यु हो गई। बरेली जेल में चार्ल्स क्लीवलैंड ने इन्हें घोर यातनाएं दी ओर कहा - "तुम्हारी माँ रोती है " तो इस वीर ने जबाब दिया - " में अपनी माँ को चुप कराने के लिए हजारों माँओ को नहीं रुला सकता। " और किसी भी साथी का नाम नहीं बताया।


"वीरां प्रताप जननीम् सततम् स्मरामि''
....................................................
यह वे शब्द हैं जो आजादी के पुरोधा और अमर शहीद ठाकुर केसरीसिंह बारहठ ने अपने पुत्र अमर शहीद कुंवर प्रतापसिंह बारहठ की शहादत पर वीर माता माणिक्य कंवर के प्रति ऐसा पुत्र जनने पर आभार प्रकट करते हुए कहे थे।
............................................................
......................................
मैं अपनी एक मां को हंसाने के लिए हजारों माताओं को नहीं रूला सकता
............................................................
...................................
पराधीनता के पाश को काटने के लिए सर्वस्व बलिदान की भाव-भूमि पर खड़े भारतीय क्रांतिकारी आंदोलन में निहित आनंद-मठ की संतानों की अप्रतिम उत्सर्ग भावना को शाहपुरा के बारहठ परिवार ने चरितार्थ कर दिखाया था। प्रतापसिंह बारहठ समूचे देश में विरले ही क्रांतिकारी हैं जिनका जन्मदिन व पुण्यतिथि एक ही दिन की है। शाहपुरा जिला भीलवाड़ा में जन्मे कुंवर प्रतापसिंह बारहठ की जन्मतिथि 24 मई 1893 तथा आत्मोत्सर्ग 24 मई 1918 को हुआ है। प्रताप का बचपन व प्रांरभिक शिक्षा कोटा में हुई। प्रताप ने आजादी के आंदोलन में प्राणोत्सर्ग का निश्चय कर मां से धोती फट जाने के बहाने तीन रुपए का प्रबंध करने की विनती की और मां ने रुपए का प्रबंध कर उन्हें दिए। तब वीर माता यह नहीं जानती थी कि उसके पुत्र को यह रुपए धोती के लिए नहीं आजादी के आंदोलन में शामिल होने के लिए प्रस्थान करने को चाहिए। दिल्ली के चांदनी चौक में लार्ड हॉर्डिंग्स पर बम फेंकने के बाद वीरवर प्रताप के पकड़े जाने पर वीर माता को प्रताप की यह बात समझ आई। तब उस वीर माता का जो कथन था वह आज भी रगों में उबाल ला देता है। उन्होंने कहा था कि यदि प्रताप मुझे अपनी मंशा जाहिर करता तो मैं उसे तिलक लगाकर विदा करती।
घर से निकलने के बाद प्रताप क्रांतिकारी दल में शामिल हो गए। जहां उनका रास बिहारी बोस, मास्टर अमीरचंद जैसे क्रांतिकारियों से संपर्क हुआ और अल्प समय में ही वह विपल्वकारी क्रांति पुजारी प्रताप उनका विश्वासपात्र बन गया। और इसके बाद ही उन्होंने वीरवर काका जोरावरसिंह बारहठ के साथ मिलकर दिल्ली के चांदनी चौक में लार्ड हॉर्डिंग पर उस समय बम फेंका जब वह भारत वर्ष की अस्मिता को रौंदने के उद्देश्य से हाथी पर बैठकर अपनी अंग्रेजी शान को दर्शाने की कोशिश कर रहा था। इसके बाद प्रताप लंबे समय तक भूमिगत रहकर क्रांतिकारी गतिविधियों को अंजाम देते रहे। फिर वह काला दिन भी आया जब अपने एक परिचित की गद्दारी के कारण जोधपुर के निकट आसानाडा रेलवे स्टेशन पर धोखे से उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद उन्हें बरेली जेल में भेजा गया, जहां अंग्रेजों ने भारत मां के उस वीर सपूत को घोर यातनाएं दीं और पिता केसरी सिंह व चाचा जोरावर सिंह को छोड़ देने जैसे प्रलोभन देकर तोड़ना चाहा।
"प्रताप को कहा गया कि तुम्हारी मां तुम्हारे लिए रोती है। तब उस वीर सपूत द्वारा दिया गया जवाब अंग्रेज अफसरों को अंदर तक हिला गया। प्रताप ने निड़र होकर बड़े साहस के साथ उत्तर दिया कि मैं अपनी एक मां को हंसाने के लिए हजारों माताओं को नहीं रूला सकता। ऐसा था आजादी का वरण करने वाला वो महान योद्धा।"
अंग्रेजों के जुल्म की इंतहा यही पर खत्म नहीं हुई, उन जालिमों ने कुंवर प्रताप के आत्मोत्सर्ग करने बाद भी उनकी पार्थिव देह को अपमानित करने का प्रयास किया और प्रताप के हिंदू होने के बावजूद ब्रिटिश अधिकारियों ने उनकी पार्थिव देह को बरेली जेल परिसर में कब्र खोद कर दफना दिया। प्रताप को अंतिम बार भीलवाड़ा रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ी में लगे अंग्रेज अफसर मिस्टर आर्मस्ट्रांग, तत्कालीन इंस्पेक्टर जनरल पुलिस, इंदौर, के सैलून में देखा गया था। जब वे पुलिस हिरासत में थे। मिस्टर आर्मस्ट्रांग प्रताप के पिता केसरीसिंह बारहठ के विरुद्घ चल रहे राजद्रोह के केस का इंनेस्टीगेशन इंचार्ज था। उस समय पिता-पुत्र के बीच कुछ पल संवाद हुआ, जिसमें पिता ने प्रताप को ताकीद किया कि यदि उसने अंग्रेजों से किसी भी प्रकार का समझौता किया तो जेल से निकलने पर मेरी पहली गोली तेरे ही सीने पर चलेगी।
कु. प्रतापसिंह की शहादत पर पिता केसरीसिंह बारहठ ने बहिन को हजारी बाग जेल से एक पत्र लिखा जिससे स्पष्ट होता है कि प्रताप के बलिदान को उन्होंने अपने परिवार की ऐतिहासिक उपलब्धि माना। केसरीसिंह बारहठ ने अपने पत्र में लिखा था कि -
"भारत में जन्म लेने के साथ ही जो कर्तव्य प्रत्येक भारतीय को अविच्छिन्न प्राप्त होते हैं, जो ऋण- वह पुरुष हो या स्त्री- सब पर रहता है, उस ऋण से मुक्ति पाने में ही हमारा कल्याण है। तुम यह जानकर अवश्य संतुष्ट होंगी कि भारत के इस प्रमुख प्रदेश में जागृति होने का शुभारंभ अपने कुटुंब की महान आहुति से हुआ है।"
मित्रों इस भावुक क्षण की अनुभूति भी कितनी करुण, कितनी उत्तेजक है जब शहीद प्रताप को जन्म देने वाली वीर माता माणिक्य कंवर के प्रति स्वयं ठाकुर केसरीसिंह बारहठ ने श्रद्धा अर्पित करते हुए लिखा कि- वीरां प्रताप जननीम् सततम् स्मरामि
ऐसे महान परिवार और उसके महान सपूत अमर शहीद कुंवर प्रतापसिंह बारहठ को उनकी पुण्यतिथि पर मेरा शत-शत नमन......

क्रांतिकारी केसरीसिंह  तथा शहीद प्रतापसिंह बारहट्ट (चारण) ना तैल चित्रोना अनावरण ::- Click Here


Sponsored Ads

23 मई 2018

लोक साहित्यकार स्व. कानजीभाई कावीदानभाई लीला (गढवी) विशे माहिती तथा वीडियो

लोक साहित्यकार  स्व. कानजीभाई कावीदानभाई लीला (गढवी) विशे माहिती तथा वीडियो 

नाम :- कानजीभाई
पितानुं नाम :- कावीदानभाई
जन्म :- ता.19-09-1937
गाम :- छत्रावा ता.कुतियाणा जी.पोरबंदर
अवशान :- ता.10-03-2013

वधारे माहिती माटे :- Click Here

लोक साहित्यकार  स्व. कानजीभाई कावीदानभाई लीला (गढवी) ना स्वर मां वीडियो 

(1) महाभारत नो प्रसंग :- Click Here

(2) रामायणना प्रसंग , साईं नेहड़ी नी वात, नागबाई माँना दुहा, वाछलबाई माँ नी वार्ता :- Click Here

(3) लक्षमण मूर्छा नो प्रसंग :- Click Here

(4) माताजी नो भेलियो :- Click Here

(5) महाभारत नो प्रसंग :- Click Here

वीडियो रेकॉर्ड करवा बदल दिनेशभाई चारण (9913862873) नो खूब खूब आभार 


Sponsored Ads






क्रांतिकारी प्रतापसिंह बारहट की 125वी जयंती एवं 100 वा शहादत दिवस सादर आमंत्रण

क्रांतिकारी प्रतापसिंह बारहट की 125वी जयंती एवं 100 वा शहादत दिवस सादर आमंत्रण



Sponsored Ads


ગુરૂ તારો પાર ન પાયો.... વંદનીય સમાજ સેવકશ્રી ભીમશીભાઈ કાકુભાઈ બારોટ



ગુરૂ તારો પાર ન પાયો....
વંદનીય સમાજ સેવકશ્રી ભીમશીભાઈ કાકુભાઈ બારોટ
"યોગી ન થઈ શકીએ તો કંઈ નહીં,પણ કોઈક ને ઊપયોગી તો થઈ જ શકીએ."......
1998-99 થી શ્રી લક્ષ્મણરાગ ચારણ કુમાર છાત્રાલય-માંડવી(કરછ-ગુજરાત)મધ્યે કોઈ પણ જાતની આપેક્ષા વગર પૂ.સોનલ મા ને આપેલ સમાજ સેવા ના વચનના ટેકધારી વંદનીય મહાપુરુષ ભીમશીંભાઈ કાકુભાઈ બારોટની સેવાને મારા સો-સો સલામ.......
ભીમશી બાપાએ "કચ્છના સંત શુરવીર ચારણો" અને અનુભવનો ભાથુ પુસ્તક લખેલ છે.
ભીમશી બાપાની સેવાને કોટિ કોટિ વંદન

22 मई 2018

ICT in Education Video For Students & Teachers.

#ચારણી સાહિત્ય બ્લોગ બનાવી આપનાર #મારા_પરમ_મિત્ર_અને_માર્ગદર્શક_એવા_શિક્ષણ_માં_ટેકનોલોજીનો_ઉપયોગ_ICT_નેશનલ_એવોર્ડ મેળવનાર ગુજરાતના પ્રથમ પ્રાથમિક શિક્ષક #શ્રી_પુરણદાસભાઈ_ગોંડલીયા દ્રારા Youtube પર ચેનલ બનાવવામાં આવી છે

જેમાં
ઘર બેઠા કમ્પ્યૂટર અને ઇન્ટરનેટના ઉપયોગ શીખો
મોબાઈલ એપ / અવનવા સોફ્ટવેરનો પરિચય અને ઉપયોગ કેવી રીતે કરશો ?
સ્પર્ધાત્મક પરીક્ષાઓની તૈયારી માટેના વીડિયો
શિક્ષકો તેમજ B.Ed./D.El.Ed.ના વિદ્યાર્થીઓ માટે ઉપયોગી
જનરલ નોલેજ  વીડિયો
કેશલેશ/ઓનલાઈન બેંકિંગ શીખવા માટેના વીડિયો
શૈક્ષણિક વિષયોને લગતા વીડિયો
સરકારની ઓનલાઇન સેવાઓના ઉપયોગ વિશેના વીડિયો
Ms Office Word & Powerpoint શીખો ગુજરાતીમાં  પ્રેક્ટિકલ વીડિયો દ્વારા
ફેસબુક /વોટ્સ એપની ટેકનિકસ જેવા વગેરે વિડીયો ના માઘ્યમ થી સરળતા થી માહિતગાર કરવામાં આવે છે

તો આપ એકવાર અવશ્ય આ ચેનલની મુલાકાત લ્યો અને ચેનલને Subscribe કરો

https://www.youtube.com/channel/UCcEJPgHOBxr3yZNhSSoVtRg

Website :- http://www.pgondaliya.com

ખૂબ ખૂબ આભાર પુરણભાઈ

कविराज कानदासजी केसरदानजी महेडु द्रि-शताब्दि महोत्सव (200 वर्ष)

गुजरात राजय संगीत नाट्य ऐकादमी, गांधीनगर आयोजीत समस्त मध्य गुजरात समाज अने सामरखा महेडु परिवार प्रयोजीत गुजरातना मध्यकालीन क्रांतिवीर कविराज  कानदासजी केसरदानजी महेडु द्रि-शताब्दि महोत्सव (200 वर्ष)

ता.26-05-2018 शनिवार सांजे 4-00 कलाके
भोजन समारंभ
ता.26-05-2018 शनिवार सांजे 7-00 कलाके
लोक डायरो
ता.26-05-2018 शनिवार सांजे 8-00 कलाके
स्थळ :- मोगल वाडी, गढवीनो कुवो, बोरयावी रोड, सामरखा, आणंद मो. 9427477621

आमंत्रणपत्रिका  जोवा माटे ::- Click Here

       वंदे सोनल मातरम्


Sponsored Ads

Sponsored Ads

19 मई 2018

छंद=हरीगीत

🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉

    *🌸🌸दोहो🌸🌸*

*डहंक डहंक डमरु बज्जे,धंमके गुगळ धूप.*
*जणणण पावे झांझरी,भैरव आगे भूप.*

*🌸🌸🌸छंद=हरीगीत🌸🌸🌸*

*शंणगार सजिया प्रगट पीठड मुखाकृत कोटी सुरज.*
*शिर लाल लोवड़ आंच मंगल छंद स्वर चर्चे चरज.*
*षंड राग छतिस रागिंनी आलाप धुन घेरा करे.*
*जय जय प्रबळ बळ अकळ पीठड जागती पृहमी परे.*..1

*पिंगळो पाडो शील सोजो रजत थी खरीयु जडी.*
*नथ्थ कनक नाके मणी झळके शिंगळा कुंढा वळी.*
*तिण पीठ आसन उन तणा शोभा अति सुंदर सरे.*
*जय जय प्रबळ बळ अकळ पीठड जागती पृहमी परे.*..2

*सोया सधु अशरण शरण पत रखण परगट परवरी.*
*धिन मात मालु कुख उजवळ सात बहनड़ अवतरी.*
*जवतल तणो ई वीर वेळो भलो भ्राता तरवरे.*
*जय जय प्रबळ बळ अकळ पीठड जागती पृहमी परे.*..3

*जिमवण कियो नवघण कटक दळ वरवडी भाणा दिये.*
*नरहिं नवड चिंधे सबळ मग सिंध पंथ पीठड हिये.*
*शरणा ग्रहो सोरठ धणी सोया तणी समरथ करे.*
*जय जय प्रबळ बळ अकळ पीठड जागती पृहमी परे.*..4

*रा' अयो नवघण भूप भारठ नेह पीठड निर्मळा.*
*संकट वयदो सघडा वयण सुण विगत बोली मंगळा.*
*वायु सखा झपडो चढ्ढो नेजा फतेका फरहरे.*
*जय जय प्रबळ बळ अकळ पीठड जागती पृहमी परे.*..5

*जद दधी खड तीर भंमर भाले शुकन चिंडीयारा लरे.*
*उण जगे आछो नीर छिंछरो भला घोडा परवरे.*
*उदधी उल्लंघन सिंध चोकी पठा पीर पीठड हरे.*
*जय जय प्रबळ बळ अकळ पीठड जागती पृहमी परे.*..6

*खल हमीर दल बल भंज भुंगळ सुमरा शिर खंडणी.*
*जस दियण क्रीर्ती जसा पळ शुभ पवाडा तुं मंडणी.*
*पत रखण परगट भुवण अणगण नकड नजरू जग फरे.*
*जय जय प्रबळ बळ अकळ पीठड जागती पृहमी परे.*..7

*चापडा बंधी लक्कड लाठी धृत सिंधुर हथ्थ रही.*
*शोभा अनृपम अकथ सुंदर बृहद ब्रद निर्मळ बही.*
*डह डहंक डंमर गहंक बाढी धूप गुगळ जरहरे.*
*जय जय प्रबळ बळ अकळ पीठड जागती पृहमी परे.*..8

*फलकु अफर फर नदी पडघम नगाडा़ नवळा बज्जे.*
*परगट स्वमंभु मात पीठड भुतडा अणगण भज्जे.*
*बावळी बढ्ढ चढ्ढ बिरद समरथ विजय करबध्ध शिर ढरे.*
*जय जय प्रबळ बळ अकळ पीठड जागती पृहमी परे.*..9

🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻

*स्तुती रचनाकार=चारण विजयभा हरदासभा बाटी.*

*मो=9726364949*

🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻

18 मई 2018

हरिद्रार खाते चारण गढवी सेवा सदननुं भूमीपूजन संपन्न सौराष्ट्रक्रांति नो अहेवाल

हरिद्रार खाते चारण गढवी सेवा सदननुं भूमीपूजन संपन्न सौराष्ट्रक्रांति नो अहेवाल


अवनवी माहिती, चारणी साहित्य , रचनाओ, ऑडियो , पुस्तक, तेमज अपना विस्तारना धार्मिक प्रसंग, समाचार  मोकली सहकार आपवा विनंती 

Email - vejandh@gmail.com

WhatsApp No - 9913051642


अवनवा समाचार, माहिती, जोब समाचार अने साथे चारणी साहित्य (जेमां काव्य,छंद, ऑडियो, बुक वगेरे....) स्वरूपे बधा सुधी पहोचे ते माटे Broadcast लीस्ट बनाववामां आवेल छे

जो तमने पण Broadcast लीस्ट मां जोडाववो मांगता होय तो आ नंबर 9913051642 सेव करी आपनुं पुरू नाम अने सरनामुं लखी मेसेज करो ऐटले टुंक समय मां ज आपने अपडेट ना मेसेज मळता थई जाशे.

आ Broadcast नो हेतु ऐटलो ज छे  वधारे चारणो सुधी माहिती पहोंचे अने उपयोगी थाय ऐ माटे आपना सहकार नी अपेक्षा छे.

खास नोंध :- आपना नंबर कोई ग्रुपमां ऐड करवामां नही आवे परंतु पर्सनल आपने मेसेज आवशे जेनी नोंध लेवा विनंती

                         सहकार बदल आपनो आभार
                               

                               वंदे सोनल मातरम

युवा कारकीदी सेमिनार पंचमहाल

युवा कारकीदी सेमिनार पंचमहाल

16 मई 2018

चारण गढवी समाजना Ph.D गाइड नी माहिती

जय माताजी

*चारण गढवी समाजना Ph.D  गाइड नी माहिती  Ph.D करवा इच्छता आपणा दिकरा / दीकरी ओने उपयोगी थाय*

*Ph.D  गाइड नी माहिती नीचे मुजब छे*

*(1)*

नाम :- डॉ. दिलीप चारण

नोकरी करता संस्थानुं नाम :- Professor and Head
Department of Philosophy, Gujarat University, Ahmedabad

यूनिवर्सिटी :- Gujarat University, Ahmedabad

विषय :- Philosophy (दर्शनशास्त्र)

संपर्क नंबर :- 9825148840

*(2)*
नाम :- डॉ. तीर्थकरदान रतूदान रोहडीया

नोकरी करता संस्थानुं नाम :- SAURASHTRA GNANPITH ARTS & COMMERCE COLLEGE - BARAWALA

यूनिवर्सिटी :- BHAKTA KAVI NARSINH MAHETA UNIVERSITY, JUNAGADH

विषय :- GUJARATI, LOK SAHITYA, CHARANI SAHITYA

संपर्क नंबर :- 94282 74055
81606 27568

*हजी कोईना नाम बाकी होय तो  9913051642 पर मोकली सहकार आपवा विनंती*

*खास नोंध :- आ माहिती जाणकारी माटे बनाववामां आवे छे खोटु अर्थघटन ना करवा विनंती*

*Forward To All Friends & Groups*

      *वंदे सोनल मातरम्*

15 मई 2018

गुजरात राज्य संगीत नाट्य अकादमी, गांधीनगर आयोजीत वजमालजी महेडु शताब्दि महोत्सव आमंत्रणपत्रिका

गुजरात राजय संगीत नाट्य ऐकादमी, गांधीनगर आयोजीत समस्त जामनगर समाज अने वजापर (लोठीया) महेडु परिवार प्रयोजीत गुजरातना मध्यकालीन कविराज राजकविश्री वजमालजी परबतजी महेडु द्रि-शताब्दि महोत्सव (200 वर्ष)

ता.20-05-2018 रविवार सांजे 4-00 कलाके
दिपोत्घाटन :- मुख्य महेमानश्रीना वरद हस्ते
प्रार्थना       :- डॉ.भगवती प्रसाद गमारा (ध्रुपद)
अतिथीनो फुलहार :- धर्मेन्द्रसिंह उमेदसिंह महेडु (वजापर)
प्रासंगिक उदबोधन :- डॉ. बलराम चावडा


मुख्य महेमान
विश्व वंदनीय संतश्री प.पू. मोरारी बापु
H.H जामश्री शत्रुशल्यसिंहजी जामनगर स्टेट


अतिथि विशेष
मांधातासिंहजी युवराज राजकोट स्टेट
आदित्यरामजी राजगायक (प्रतिनिधी) जामनगर स्टेट
पुनमबेन माडम सांसद
धर्मेन्द्रसिंह जाडेजा धारासभ्य
स्वामीनारायण संतो जामनगर मंदिर


संकलन - संचालन
महेशदान महेडु (पाटणा)
शिवदान महेडु (देहगाम)

आभार विधि :- वजापर (लोठीया) महेडु परिवार

भोजन समारंभ
ता.20-05-2018 रविवार सांजे 7-00 कलाके


लोक डायरो
ता.20-05-2018 रविवार सांजे 8-00 कलाके

यशवंत लांबा
बिहारी हेमुभाई रत्नु
अनुभा जामंग
जितु दाद मिसण
देवराज मावल
राजुदान ईसराणी

स्थळ :- वजापर (लोठीया) ता- जी. जामनगर (मो.94262203736)

आमंत्रणपत्रिका (pdf file) :- Click Here

Sponsored Ads